सावन के पहले सोमवार पर भक्ति में डूबा शहर

शिवालयों में पूजन-अर्चन करने उमड़े भक्त,दिनभर कई आयोजन

इंदौर। शिव आराधना के सावन माह के पहले सोमवार पर शिव मंदिरों में पूजन-अर्चन करने वालों की भीड़ अल सुबह से ही उमड़ने लगी। भक्तों ने सुबह भगवान शिव का जलाषिभेक किया वहीं मंदिरों में भगवान शिव का आकर्षक श्रंृगार भी किया गया। शिव मंदिरों में विभिन्न आयोजन दिनभर कई आयोजन रखे गए हैं। सावन माह के पहले सोमवार का उल्लास दो साल बाद देखते ही बन रहा है। पिछले दो साल महामारी के चलते सावन माह में आयोजन नहीं हो सके थे। महादेव का रुद्राभिषेक गेंदेश्वर द्वादश ज्योतिर्लिंग मंदिर परदेशीपुरा चौराहे पर सुबह हुआ। पार्थिव शिवलिंग निर्माण समिति द्वारा पार्थिव शिवलिंग निर्माण पूजन हरिधाम कैट रोड पर सुबह 9.30 बजे से किया जा रहा है।


कपलेश्वर महादेव मंदिर काटजू कालोनी में कपलेश्वर महादेव का सुबह 8 बजे आमरस से बाबा का अभिषेक किया गया। इसके बाद आरती की गई। शाम 7 बजे रामेश्वरम् के रूप बाबा के दर्शन भक्तों को होंगे। नौलखा स्थित मनकामेश्वर कांटाफोड़ शिव मंदिर में भक्त मंडली के सहयोग से सौ लीटर दूध के साथ भगवान भोलेनाथ का अभिषेक किया गया। वहीं भक्तों के लिए बिल्व पत्र, हल्दी, चावल, कुमकुम एवं अबीर सहित सभी पूजन सामग्री दिनभर निशुल्क उपलब्ध रहेगी। श्रावण माह में आम भक्तों के लिए प्रतिदिन 100 लीटर दूध एवं अन्य सभी पूजन सामग्री की व्यवस्था भी रहेगी। गांधी हाल स्थित गोपेश्वर महादेव मंदिर में गोपेश्वर महादेव का कर्पूर गौरं करुणावतारं स्वरूप में मावे व सूखे मेवे से श्रृंगार किया गया। श्रृंगार आरती रात 8 बजे होगी। इसके बाद भजन संध्या का आयोजन किया जाएगा।

पारदेश्वर शिवलिंग का प्रतिदिन अभिषेकात्मक
विमानतल मार्ग स्थित श्री श्रीविद्याधाम पर श्रावण मास के उपलक्ष्य 71 विद्वानों द्वारा महामंडलेश्वर स्वामी चिन्मयानंद सरस्वती के सानिध्य एवं आचार्य पं. राजेश शर्मा के निर्देशन में पारदेश्वर शिवलिंग का गोघृत से अभिषेकात्मक अतिरूद्र महायज्ञ किया गया। आचार्य पं. उमेश तिवारी, आचार्य ब्रह्मचारी पं. प्रशांत अग्निहोत्री एवं आचार्य पं.राहुल शर्मा भी उपस्थित थे। आश्रम परिवार के पूनमचंद अग्रवाल, पं. दिनेश शर्मा एवं रमेश राठौर ने बताया कि आश्रम पर पूरे सावन माह में सुबह े से अखंड दुग्ध धारा एवं तीर्थ जल से अभिषेकात्मक अतिरूद्र महायज्ञ तथा सायं 5 बजे से सामूहिक शिव महिम्न पाठ, 5.30 बजे से सामूहिक लक्षार्चन आराधन एवं रात्रि 9 बजे से सामूहिक शिव आराधना के अनुष्ठान होंगे।

हंसदास मठ पर को सुबह -शाम विभिन्न आयोजन
इंदौर। बड़ा गणपति, पीलियाखाल स्थित प्राचीन हंसदास मठ पर हंस पीठाधीश्वर श्रीमहंत रामचरणदास महाराज के सान्निध्य में श्रावणी अनुष्ठान के तहत प्रतिदिन प्रात: 8.30 बजे से अभिषेक, पूजन एवं जाप के साथ प्रत्येक श्रावण सोमवार को सांय 6 बजे से हंसेश्वर महादेव का आकर्षक श्रृंगार कर मनोहारी झांकी भी सजाई जाएगी। मठ के पं.पवनदास शर्मा ने बताया कि भक्तों के लिए हंसदास मठ स्थित सभी देवालय खुले रहेंगे। प्रत्येक सोमवार को भगवान भोलेनाथ का विभिन्न स्वरूपों में आकर्षक श्रृंगार किया जाएगा। आज सुबह अभिषेक पूजन एवं जाप के अनुष्ठान हुए।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.