Browsing Tag

congress indore

गुस्ताखी माफ़: बीच सभा मलाई मारकर ले गए दादा….फरमान जारी होते ही….कल्चर के नाम पर नाइट…

बीच सभा मलाई मारकर ले गए दादा हुकुमचंद मिल के मजदूरों का मामला अब जमीनी आधार पर भले ही अभी कमजोर हो, पर अभी सपने में दाल-बाफले पूरी कटोरी घी डालकर खाने में कोई दिक्कत नहीं है। इधर, नगर निगम महापौर द्वारा किए गए ऐलान के बाद मिल मजदूरों…
Read More...

गुस्ताखी माफ़: मेरा टेसू अब नहीं अड़ा और ना ही मांगे अब खाने को दहीबड़ा…

मेरा टेसू अब नहीं अड़ा और ना ही मांगे अब खाने को दहीबड़ा... भाजपा में भले ही संगठन अब अगले साल की चुनावी तैयारियों का दावा कर रहा हो, परंतु दूसरी ओर उम्रदराज हो रहे नेताओं का भाजपा से मोह लगभग खत्म हो गया है। कहावत है मेरा टेसू नहीं अड़ा…
Read More...

गुस्ताखी माफ़: दु:खी और त्यागे कांग्रेसियों की सुनवाई शुरू…

दु:खी और त्यागे कांग्रेसियों की सुनवाई शुरू... इन दिनों इंदौर में कांग्रेस के नगर और ग्रामीण अध्यक्ष पर मेहरबान और पहलवान वाला समीकरण बिगड़ रहा है। इसके चलते लंबे समय से गरीब कांग्रेसी जो दुआएं मांग रहे थे, उसके पूरी होने की संभावना अब…
Read More...

सुलेमानी चाय: सत्तू तुम संघर्ष करो, हम कोठारी के भी साथ हैं

सुलेमानी चाय सत्तू तुम संघर्ष करो, हम कोठारी के भी साथ हैं विधानसभा पांच में कांग्रेस का बड़ा वोट बैंक खजराना की शक्ल में मौजूद है, लेकिन खजराने में कांग्रेस के दस नम्बरी नेता लाड़ा-लाड़ी दोनों को नहला रहे हैं। इस बार खजराने के कांग्रेसी…
Read More...

(Sulemani Chai) सुलेमानी चाय: नो बिंदु पर नो दो ग्यारह हो सकती है तुकोगंज कमेटी…

नो बिंदु पर नो दो ग्यारह हो सकती है तुकोगंज कमेटी... (Dainik Dopahar Sulemani Chai) शहर में बड़ी ओर माली हालत से मजबूत वक्फ कमेटी तुकोगंज पचड़े में फंसी हुई है , पहले तो पिछली कमेटी में उपाध्यक्ष रहे असलम को किसी दूसरे असलम के गुनाहों…
Read More...

अवैध प्रगति विहार : जमीन की रजिस्ट्री कांग्रेस नेता के परिवार ने की

इंदौर। अंतत: बायपास पर बनाई गई प्रगति विहार को प्रशासन ने अवैध घोषित कर दिया। इस कालोनी के अलावा पास ही में एक और साम्राज्य प्रगति विहार भी इसी प्रकार से खड़ी की गई है। इसमें कई आईएएस अधिकारी के अलावा उच्च न्यायालय के सेवानिवृत्त जज ने भी…
Read More...

उज्जैन-देवास जनपदों में वर्मा की रणनीति भारी पड़ी

इंदौर। मध्यप्रदेश में नगर निकाय चुनाव के रुझानों ने भाजपा के लिए चिंता की लकीरें खींच दी हैं। पिछली बार भाजपा 16 नगर निगमो पर काबिज थी परंतु इस बार 16 में से पांच नगर निगम रीवा, ग्वालियर, जबलपुर, छिंदवाड़ा, मुरैना भाजपा के हाथों से जाती…
Read More...