जिंसी-लक्ष्मीबाई प्रतिमा सड़क नोटिस-नपती के बाद अटकी

आयुक्त की गैर मौजूदगी में अधिकारी कर रहे लापरवाही

इंदौर। शहर में सड़कों के चौड़ीकरण का कार्य धीमी गति से चल रहा है। नगर निगम ने पिछले दिनों कई सड़कों के चौड़ीकरण को लेकर बाधक निर्माण हटाने के नोटिस दिए थे। मगर अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। जिंसी चौराहा से लक्ष्मीबाई प्रतिमा सड़क का कार्य भी अटक गया है। यहां 65 मकान बाधक है। सड़क की चौडाई 80 फीट तय की गई है, मगर रहवासियों के विरोध के बाद अब जनप्रतिनिधि भी मैदान में है। निगम ने बाधक निर्मार्णों पर निशान लगा दिए है।

जिंसी-लक्ष्मीबाई प्रतिमा सड़क
जिंसी-लक्ष्मीबाई प्रतिमा सड़क


महापौर पुष्पमित्र भार्गव के कार्यकाल को तीन माह बीत चुके है। श्री भार्गव ने पदभार संभालते ही तीन माह में करने वाले कार्यों का विवरण दिया था और तीन दिन पहले मीडिया के सामने उन्होंने अपनी उपलिब्ध बताई। वहीं शहर में कई सड़कों का निर्माण अधूरा है। महापौर बोले थे कि जिम्मेदारों पर कार्रवाई की जाएगी। एमजी रोड सड़क निर्माण में जहां अधिकारी लापरवाही बरत रहे है, वहीं घटिया निर्माण की शिकायत भी हुई। आयुक्त प्रतिभा पाल ने जांच की बात कही थी, मगर जांच और कार्रवाई के अते-पते नहीं है।

Also Read – सुभाष मार्ग से किला मैदान तक इसी सप्ताह डलेगी सेंटर लाइन

आयुक्त पाल पिछले दिनों लखनऊ एक प्रेजेंटेशन देने गई थी। कल शाम तक उनके इंदौर आने की सूचना नहीं थी। इधर अधिकारी शहर में काम में भी लापरवाही बरतने लगे थे। जिन्सी चौराहा से लक्ष्मीबाई प्रतिमा तक सड़क अटक गई है। 80 फीट चौड़ी सड़क के निर्माण में 65 मकान, दुकान बाधक है। क्षेत्रीय भवन अधिकारी विवेक जैन का कहना है कि हमने नोटिस दे दिए है और नपती भी कर ली है। जैसे ही रिमूव्हल के आदेश होंगे वैसे ही कार्रवाई शुरू कर दी है। सड़क की चौडाई के विरोध में अब राजनीतिक भी मैदान में उतर आए है। कांग्रेस नेताओं ने महापौर, आयुक्त से इस विषय में मिलकर अपनी बात रखने की बात कही है।

आधा दर्जन बड़ी सड़कों पर चल रहा था काम

उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों महापौर भार्गव और आयुक्त प्रतिभा पाल ने कई बड़ी निर्माणाधीन सड़कों का निरीक्षण किया था और अधिकारियों को निर्देश दिए थे कि सभी सड़कें तय समय में पूरी हो जाए। आरईटू, एमजी रोड, मरीमाता सड़क, इमली बाजार सड़क, खंडवा रोड सहित आधा दर्जन सहित कुल सड़कें बनाई जाना है। कई सड़कों पर काम जारी है तो कई जगह 20 फीसदी काम भी अब तक नहीं हुआ। इन सभी सड़कों पर नगर निगम 100 से 150 करोड़ रुपए खर्च कर रहा है।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.