income tax raid in indore: तड़के शहर में बिल्डरों के यहां एक साथ आयकर के छापे

कांग्रेस के पूर्व विधायक पटेल और पटवारी, संघवी के परिवारों की हिस्सेदारी भी मिली

income tax raid

income tax raid in indore इंदौर। शहर में आज सुबह 5 बजे से आयकर विभाग की बड़ी टीम ने एक साथ छापे की बड़ी कार्रवाई शुरू की। इस दौरान जहां जमीनों ले लेन-देन के सौदों के साथ कई दस्तावेज जब्त किए, साथ ही नकदी के भी बरामद होने की जानकारी सामने आई है। इन छापों में कांग्रेस के एक पूर्व विधायक के परिवार के साथ एक और विधायक की हिस्सेदारी के भी दस्तावेज जब्त किए गए हैं। सोने-चांदी के कारोबारियों के यहां भी कार्रवाई की गई है। इन छापों में सुबह से ही विभाग की टीम शुभम लाभम ग्रुप के अलावा कई जगह कार्रवाई चल रही है।

आयकर विभाग के सूत्रों ने बताया कि आज सुबह 5 बजे से 100 से अधिक आयकर अधिकारियों की टीमें एक साथ अलग-अलग जगहों पर पहुंची। इसमें रियल इस्टेट क्षेत्र में काम कर रहे शुभम ग्रुप के मुखिया सुमित मंत्री के रेसकोर्स रोड और महेश नगर में कार्रवाई की गई तो लाभम ग्रुप के पप्पू मंत्री के संपतहिल पर स्थित निवास और कार्यालयों पर टीम ने जांच का काम प्रारंभ किया। कांग्रेस से कई चुनाव लड़कर हारने वाले पंकज संघवी के परिवार में भी छापे की कार्रवाई की गई।

टीनू संघवी के प्रगति विहार में बड़ी मात्रा में दस्तावेज जब्त किए गए। टीनू संघवी के यहां ईडी (आर्थिक अपराध विभाग) की टीम भी साथ में पहुंची है। वहीं आयकर विभाग के सूत्रों का यह भी कहना है कि सुमित मंत्री, राऊ के विधायक जीतू पटवारी के साथ कई प्रोजेक्ट में हिस्सेदार भी हैं, तो वहीं राजेन्द्र बिसाणी के यशवंत क्लब के निवास पर छापे मारे गए हैं।

अन्नपूर्णा रोड पर नियमों के विपरित बन रहे मॉल सहित बड़ी मात्रा में जमीनों के दस्तावेज, जेवर और नकदी मिला

बिसाणी पूर्व विधायक सत्यनारायण पटेल के परिवार के साथ कई प्रोजेक्ट में पैसा लगा रहे हैं। इसके अलावा सिलिकॉन वैली सहित कई जमीनों में बड़ी हिस्सेदारी रखने वाले पवन श्रीमाली भी आयकर विभाग की जांच में आ गए हैं।

इधर आयकर विभाग का कहना है कि अन्नपूर्णा मंदिर के करीब बन रहे एक मॉल को लेकर भी पप्पू मंत्री के यहां दस्तावेज मिले हैं। इसमें इंदौर के स्टेशनरी और प्रिंटिंग का कारोबार करने वाले विजयश्री ग्रुप के बारे में भी जानकारी अभी मिली है।

यहां पर यह भी पता लगाया जा रहा है कि इस जमीन पर मॉल की परमिशन कैसे मिली है। इसमें भी बड़ा भ्रष्टाचार हुआ है, इस मामले की एक शिकायत ईडी में भी पहले से ही की गई है। इसी के साथ एसडी वायर ग्रुप के दिलीप जैन के अलावा दो चार्टर्ड एकाउंट के यहां सुबह छापेमारी की गई है।

टीनू संघवी पंकज संघवी के भाई है, जो इंदौर में कांग्रेस में लगातार चुनाव हारने के कई रिकार्ड बना चुके है। 11 बजे तक चल रही जांच में एक अनुमान के अनुसार 100 करोड़ से अधिक की कर चोरी का मामला सामने आने की उम्मीद विभाग कर रहा है।  साथ ही अभी तक बड़ी मात्रा में नकद और सोना-चांदी भी छापों में मिला है। छापे की कार्रवाई आज और कल जारी रहेगी। 

income tax raid in indore

वही दूसरी ओर पिछले तीन दिनों से वाणिज्यकर विभाग द्वारा पटाखा व्यापारियों के यहां भी टैक्स चोरी को लेकर कार्रवाई की जा रही है। इससे पटाखा व्यापारियों में भारी खलबली मची हुई है। दीपावली के ठीक पहले इस कार्रवाई से कहीं न कहीं पटाखा व्यापारियों को भारी नुकसान की भी संभावना है। इंदौर के अलावा भोपाल, जबलपुर व अन्य शहरों में छापे मारे गए।

income tax raid in indore

 

Also Read – Indore Sarafa Bazar: 200 करोड़ से अधिक के सोने-चांदी-जवाहरात का व्यवसाय

कुल 59 व्यापारियों को जीएसटी की जांच के दायरे में लिया गया है। लगभग 150 व्यापारी जांच के दायरे में है। इंदौर शहर में 1 दर्जन के करीब पटाखा व्यापारियों पर टैक्स चोरी की जांच चल रही है। सूत्रों ने बताया कि करोड़ों की टैक्स चोरी का मामला आ सकता है। हालांकि अब तक आंकडे नहीं बताए गए। इंदौर में देश के अलग-अलग राज्यों से पटाखे आते हैं और यहां से कई शहरों को बड़े पैमाने पर पटाखे भेजे जाते है। थोक बाजार होने के चलते टैक्स चोरी भी बड़े स्तर पर होती है। income tax raid in indore

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.