indore metro project: विधानसभा चुनाव से पहले मेट्रो ट्रेन चलाने पर संशय

कई बड़े काम शेष, अगले साल ट्रायल की उम्मीद

indore metro

indore metro project

इंदौर। स्मार्ट सिटी के अहम प्रोजेक्ट मेट्रो ट्रेन का काम तेजी से चल रहा है। इसके बावजूद निर्धारित समयसीमा तक ट्रेन का दौड़ना संभव नजर नहीं आ रहा, क्योंकि अभी कई बड़े काम होना शेष है। अगले साल सितम्बर तक जरूर ट्रायल कराने की बात कही जा रही है।

सबकुछ ठीक रहा तब भी आगामी विधानसभा और लोकसभा चुनाव के पहले मेट्रो ट्रेन की सौगात नहीं मिल पाएगी। ऐसे में लोगों को मेट्रो में सफर करने के लिए लंबा इंतजार करना पड़ेगा।
शहरवासियों को सस्ती और सुलभ यात्रा के लिए मेट्रो ट्रेन की घोषणा कई साल पहले की गई थी। अब इसका काम शुरू होने के साथ ही समय पर होने का दावा किया जा रहा है। शुरूआती दौर में पहले चरण का काम पूरा करना लक्ष्य रखा गया है।

Also Read – Indore Metro: मेट्रो की जमीन के लिए व्यापारियों को नोटिस

7500.80 करोड़ की लागत से इस योजना में 5 किलोमीटर के रुट का ट्रायल रन 2023 तक होने की उम्मीद है। परियोजना का काम निरंतर जारी हकै। वर्ष 2019 में इसकी शुरुआत होने के बाद रुके काम भी अब तक इंदौर, भोपाल से पीछे है।

यात्री सेवा शुरू करने से पहले इस लोक परिवहन साधन को अगले साल के भीतर 5.9 किलोमीटर के सर्वोच्च प्राथमिकता वाले गलियारे पर परख लिया जाएगा। इंदौर में मेट्रो के लिए 31.5 किलोमीटर रुट में 29 स्टेशन बनाने हैं। इसमें एक स्टेशन की अनुमानित लागत 58 करोड़ है, जबकि अंडर ग्राउंड स्टेशन की लागत 190 करोड़़ रुपए आ रही है।

ये बनेगा परियोजना में देरी का कारण

एयरपोर्ट से रेडिसन चौराहा के बीच तीन अलग-अलग कंपनियों द्वारा काम किया जा रहा है। परियोजना के चलते सुपर कारीडोर से लेकर रेडिसन होते हुए रोबोट चौराहा तक के मार्ग के बीच का काम जारी है। इन स्थानों पर सेगमेंट बना दिए गए हैं। आगे के काम के लिए सामान लाने ले जाने के लिए सड़कों पर लगे बेरीकेट्स के कारण ट्रेफिक धीमी गति से चल रहा है। एमआर 10 स्टेशन के निर्माण का काम जारी है। कंपनी के अनुसार, फिलहाल ट्रायल रन की तय तारीख बताना संभव नहीं है, लेकिन आम लोगों को सफर 2024 के शुरू या मध्य में ही कर पाएंगे। यह प्रोजेक्ट बड़े स्तर का है इसलिए इसमें देरी होना स्वाभाविक है।

Also Read – mp metro: सिहंस्थ 2028 से पहले उज्जैन तक मेट्रो ले जाने की तैयारी

मेट्रो का स्टेशन एयरपोर्ट के करीब

indore metro

एयरपोर्ट टर्मिनल के सामने मल्टी लेवल पार्किंग बनाया जाएगा। एयरपोर्ट अथारिटी के 21 एकड़ जमीन पर मेट्रो ट्रेन प्रस्तावित है। यहां से देश के कई राज्यों तक सीधी उड़ानें है। इन उड़ानों से यात्रियों को मेट्रो का लाभ मिल सकेगा। एजेंसी ने इसी में से स्टेशन के लिए जमीन मांगी थी, जिस पर सहमति बन गई है। अब मेट्रो स्टेशन के साथ इंटरकनेक्टिविटी की योजना बनाई जा रही है। इसके लिए पार्किंग और अन्य सुविधाओं को तल मंजिल से शुरू किया जाएगा। तब तक बिजासन मंदिर वाले रास्ते को बंद नहीं किया जाएगा।

टेकरी के नीचे प्लेटफार्म बनेगा

इंदौर में भी एयरपोर्ट और मेट्रो एक दूसरे से जुड़ेंगे। विमानतल के समीप अधिग्रहित की गई बिजासन मंदिर पहुंच मार्ग की जमीन पर प्लेटफार्म बनाया जाएगा। यह प्लेटफार्म टेकरी के नीचे अंडरग्राउंड रहेगा। 

indore metro project

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.