बाजार खुलते ही धड़ाम, 4 लाख करोड़ स्वाहा

चीन में कोरोना की चौथी लहर का असर, कई बाजारों में दिखने लगा

मुंबई (ब्यूरो)। देश की अर्थव्यवस्था के लिए अगले 100 दिन बेहद महत्वपूर्ण होंगे। चीन में कोरोना महामारी के तेजी से फैलने और शंघाई सहित कई राज्यों में लॉकडाउन का असर भारत के शेयर बाजार पर अब दिखाई दे रहा है। आज सुबह चंद मिनटों में ही निवेशकों के 4 लाख करोड़ रुपए बाजार खुलते ही स्वाहा हो गए। यह अब तक की एक ही दिन की सबसे बड़ी गिरावट है। दूसरी ओर विदेशी निवेशकों ने भी ब्याज दरों में वृद्धि होने के साथ ही बाजार से 4500 करोड़ रुपए निकाल लिए।
लंबी छुट्टी के बाद सप्ताह के पहले कारोबारी दिन सोमवार को शेयर बाजार कमजोर वैश्विक संकेतों के चलते एक बार फिर लाल निशान पर खुला। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स सूचकांक 1,130 अंक या 1.94 फीसदी फिसलकर 57,209 पर के स्तर पर खुला, जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के निफ्टी सूचकांक ने 299 अंक या 1.71 फीसदी टूटकर 17,176 के स्तर पर कारोबार शुरू किया। बाजार खुलने के साथ ही लगभग 950 शेयरों में तेजी आई है, 1611 शेयरों में गिरावट आई है और 142 शेयरों में कोई बदलाव नहीं हुआ है। इस बीच बात करें निवेशकों को होने वाले नुकसान की तो, बाजार की शुरुआत के साथ ही निवेशकों को करीब चार लाख करोड़ रुपये का नुकसान हो गया। कारोबारी बता रहे हैं कि यह गिरावट अभी जारी रहेगी। कोरोना महामारी की चौथी लहर के आगमन को लेकर पूरे विश्व के बाजार में घबराहट का माहौल है। चीन में चौथी लहर शुरू होते ही कड़ा लॉकडाउन लगाया गया है, इसके कारण इस बार बाजारों में पिछली गिरावट से ज्यादा तेज गिरावट होने की संभावना है जिसका असर भारतीय बाजारों पर रहेगा। अमरीकी रिजर्व बैंक द्वारा ब्याज दरों में बढोतरी के बाद शेयर बाजार से 4500 करोड़ रुपए निकाल लिए, इससे भी बाजार को बड़ा झटका लगा है।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.