शिव रेसीडेंसी: बिजली लाइन मिलने से अब आशियानों का निर्माण शुरु होगा

रजिस्ट्री करवा चुके लोगों को दे दिए है कब्जे, शीघ्र ही यहां विकसित होते मकान दिखाई देंगे- छाबड़ा

शिव रेसीडेंसी

इंदौर। खंडवा रोड से स्थित शिव रेसीडेंसी में अब अगले कुछ समय में ही आशियानों का निर्माण शुरू हो जाएगा। लंबे समय से इस टाउनशिप में बिजली का कनेक्शन नहीं मिल पाने के कारण इसका विकास कार्य प्रभावित हो रहा था।

अब पेंथर लाइन से कनेक्शन के साथ ही शिव रेसीडेंसी के संचालकों ने 9 करोड़ रुपए की राशि भर दी है। इसी के साथ यहां पर भवन अनुमति भी प्रारंभ हो गई है। दूसरी ओर यहां पर बनाए जा रहे ईडब्ल्यूएस के मकानों के बदले में प्रशासन ने विधान के अनुसार ही योजना में बदलाव कर बिल्डिंग बनाने की अनुमति जारी की थी। पानी की टंकी का निर्माण के साथ बाउंड्रीवाल हो चुका है।

Also Read – शिव रेसीडेंसी : एसडीएम को दो प्लाट दिए और बिना विकास 120 एकड़ जमीन मुक्त करवा ली

शिव रेसीडेंसी के निर्माता वरजिन्दरसिंह छाबड़ा ने बताया कि खंडवा रोड पर विकास के रूप में यह बेहतर तरीके से अब दिखाई देगी। लंबे समय से जिन भूखण्डधारियों ने अपने भूखण्डों की रजिस्ट्रियां करवा रखी थी उन्हें कब्जा भी दे दिया गया है। इसी के साथ अब यहां लंबे समय से बिजली कंपनी के साथ बिजली लाइन लेने के लिए जो प्रयास किये जा रहे थे। वह अब सफल हो गए है।

कंपनी ने लगभग 9 करोड़ रुपए की राशि जमा करवाने के बाद अब बिजली की लाइन देने के लिए तैयार कर ली है। लंबे समय से टाउनशिप में पेंथर लाइन से कनेक्शन दिए जाने को लेकर कंपनी ने रोक रखा था, क्योंकि इस क्षेत्र मेें लोड अत्यधिक पहले से ही बना हुआ था। दूसरी ओर शिव रेसीडेंसी में अब प्लाट होल्डर शीघ्र ही अपने मकानों का निर्माण शुरू कर पाएंगे।

दूसरी ओर शासन ने ईडब्ल्यूएस की योजना को विधान के तहत इस लिए बदला था कि यहां पर शहर से दूर होने के कारण ईडब्ल्यूएस मकानों में कोई रहने नहीं आएगा। इसके बदले में शासन ने बिल्डिंग बनाने की अनुमति जारी की। शिव रेसीडेंसी के निर्माता वरजिन्दरसिंह छाबड़ा ने बताया कि कालोनी को बेहतर तरीके से बनाए जाने को लेकर सारे प्रयास किए गए है। कहीं पर भी विधान का दुरुपयोग नहीं किया गया है।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.