Diwali 2022: राजयोग में लक्ष्मी पूजा का मुहूर्त

दिवाली पर कार्तिक अमावस्या के दिन लक्ष्मी पूजन का विधान होता है। इस दिन मां लक्ष्मी के साथ विध्नहर्ता भगवान गणेश,देवी सरस्वती और कुबेर देवता की पूजा होती है।  अब बस कुछ ही घंटों बाद प्रदोष काल में दिवाली लक्ष्मी पूजा का शुभ मुहूर्त शुरू हो जाएगा। इसलिए सभी तरह की तैयारियां जल्द से जल्द कर लें। सभी तरह के पूजन सामग्री को पूजा स्थल के पास जमा करके रख लें। पंचांग गणना के अनुसार लक्ष्मी पूजा मुहूर्त शाम आज 06 बजकर 53 मिनट से रात 08 बजकर 16 मिनट तक रहेगा। लक्ष्मी पूजन की कुल अवधि 01 घंटा 23 मिनट की है।

दिवाली 2022 रात्रि का शुभ चौघड़िया मुहूर्त

चर-सामान्य: 06:19 बजे से 07:58 बजे तक
लाभ-उन्नति: 11:16 बजे से देर रात 12:54 बजे तक
शुभ-उत्तम: देर रात 02:33 बजे से कल सुबह 04:12 बजे तक
अमृत-सर्वोत्तम: कल सुबह 04:12 बजे से कल सुबह 05:51 बजे तक

दिवाली में पूजन में गणेशजी के इस मंत्र का करें जाप

गजाननम्भूतगभू गणादिसेवितं कपित्थ जम्बू फलचारुभक्षणम्।
म् उमासुतं सु शोक विनाशकारकं नमामि विघ्नेश्वरपादपंकजम्।

स बार कार्तिक अमावस्था तिथि पर साल का आखिरी सूर्य ग्रहण भी लगेगा और दिवाली भी मनाई जाएगी। हिंदू कैलेंडर के अनुसार आज यानी 24 अक्तूबर को कार्तिक अमावस्या की तिथि शाम 05 बजकर 29 मिनट से शुरू हो जाएगी और इसका समापन 25 अक्तूबर को शाम 04 बजकर 20 मिनट पर हो जाएगा। लेकिन सूर्य ग्रहण के लगने से 12 घंटे पहले सूतक काल सुबह तड़के शुरू हो जाएगा। इस तरह से 24 अक्तूबर को रात के समय लक्ष्मी पूजा की जाएगी। लेकिन 25 अक्तूबर को भोर में सूतक लगने के कारण लक्ष्मी-गणेश की नई मूर्तियों समेत सभी मंदिर के दरवाजे या पर्दे बंद करना पड़ेगा।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.