दिव्यांग से अभद्र व्यवहार के कारण इंदौर एडीएम जैन को मुख्यमंत्री ने तत्काल हटाया

लम्बे समय से मिल रही थी अभद्रता की शिकायतें

Indore ADM Jain was immediately removed

Indore ADM Jain was immediately removed

इंदौर। शिकायत और समस्या लेकर पहुंचने वाले लोगों से एडीएम पवन जैन अभद्र व्यवहार करते थे। कई बार वे शिकायतकर्ता को डांट फटकार कर भगा देते थे। कल एक दिव्यांग जनसुनवाई में अपनी शिकायत लेकर पहुंचा तो उसके साथ एडीएम के सिपाही ने मारपीट की और एडीएम ने अभद्रता की। इसके बाद आज मुख्यमंत्री ने मामला संझान पर आने पर एडीएम को तत्काल हटा दिया है।

दिव्यांग कृष्णा उर्फ सोनू पाठक अपने दादाजी के मकान को अपने नाम कराना चाहता था। इसके लिए वह कई बार नगर निगम और जिला प्रशासन को शिकायत कर चुका था। बार-बार जनसुनवाई में आता था। इसे देख कल उसे कक्ष में जाने से रोक दिया। जैसे-तैसे वह गुहार लगाते हुए जनसुनवाई करने पहुंचा। यहां उसने अपनी शिकायत पवन जैन के समक्ष दर्ज करवाई।

Also Read – Two wheeler market collapsed: टू व्हीलर का बाजार चरमराया, मुफ्त में भी नहीं उठा रहे वाहन

दिव्यांग की गलती सिर्फ इतनी थी कि उसने फाइल जोर से पटक दी थी। इस पर एडीएम ने उसे डांट दिया था। गुस्से में दिव्यांग ने अपनी फाइल और मोबाइल पटक दिया था। मोबाइल का कवर एडीएम के चेहरे पर लगा था। इसी से एडीएम नाराज थे।

पवन जैन की भाषाशैली भी ठीक नहीं थी। वह किसी के सामने भी किसी को भी अभद्र भाषा से व्यवहार कर भगा देते थे। पटाखा लायसेंस के मामले में भी उनकी कई शिकायतें शासन-प्रशासन के बाद पहुंची थी। Indore ADM Jain was immediately removed

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.