Two wheeler market collapsed: टू व्हीलर का बाजार चरमराया, मुफ्त में भी नहीं उठा रहे वाहन

कारों के लिए चल रही वेटिंग, दो पहिया पर भारी छूट

two wheeler market news

Two wheeler market collapsed इंदौर।

दीपावली महोत्सव के अवसर पर आटोमोबाइल सेक्टर में चार पहिया वाहनों का बाजार जहां टाप गियर में है वहीं टू व्हीलर की पूछ परख ही नजर नहीं आ रही। हालत यह है कि जीरो परसेंट डाउन पेमेंट और आसान किश्तों में उपलब्ध कराये जाने के बावजूद टू व्हीलर के खरीददार जहां गिने चुने ही नजर आ रहे हैं। कंपनियों द्वारा इस साल वाहन देकर अगले साल से किश्ते प्रारंभ करने से लेकर मात्र छह हजार रुपए में वाहन देने और सौ प्रतिशत फाइनेंस के आफर दिये जा रहे हैं। वहीं कारों के लिए लंबी वेटिंग चल रही हैं। इधर इलेक्ट्रानिक मार्केट में जबरर्दस्त बूम नजर आ रहा है और यहां ग्राहकों की जबर्दस्त भीड़ उमड़ रही है।

Also Read – पुष्प नक्षत्र: आज 200 करोड़ के गहने खरीदे जाएंगे, कुल 500 करोड़़ का कारोबार

उल्लेखनीय है कि कोरोना महामारी एवं लाकडाउन के चलते दो साल के बाद बाजार में त्यौहार का उल्लास नजर आ रहा है। इसी के चलते इस वर्ष गणेश चतुर्थी से आटोमोबाइल सेक्टर में जबर्दस्त उछाल है। इस बार आटोमोबाइल सेक्टर में पिछले साल कोरोना के मुकाबले इस बार कारों की बिक्री शिखर पर है। इलेक्ट्रानिक कारें जो तीस लाख रुपए से महंगी है उनके लिए दो माह तक की बुकिंग हो चुकी है। वहीं दीपावली पर तीन हजार से अधिक कारें बाजार में उतरेंगी। धनतेरस पर गाड़ियों की सर्वाधिक डिलेवरी होगी। जबकि कुछ लोगों को कारों के लिए इंतजार करना होगा। मारुति सुजुकी इंडिया के सीनियर ऑफिसर सेल्स एंड मार्केटिंग शशांक श्रीवास्तव के मुताबिक सुजुकी की ४ लाख ४० हजार कार डिलेवरी पेंडिंग है।

two wheeler market news

ग्रामीण अर्थ व्यवस्था का दिखेगा बाजार पर असर

आमतौर पर दोपहिया मोटर साइकिले खरीदने वाले छोटे ग्राहक होते हैं इसमे मजदूर से लेकर किसानों के परिवार तक यह मांग रहती है परंतु इस बार खाद्यान्न महंगाई ने पंद्रह से बीस हजार रुपए तक कमाने वाले व्यक्ति की अर्थ व्यवस्था को तगड़ा झटका दिया है और इसके चलते खाने पर बड़ा खर्च हो रहा है। इसी कारण इस बार दो पहिया वाहनों के खरीददार शोरुम तक नहीं पहुंच रहे हैं।

इधर टूव्हीलर वाहनों का बाजार है सुस्त

इंदौर आटोमोबाइल्स सेक्टर पर यदि नजर डाली जाए तो दीपावली के त्यौहारी सीजन में टू व्हीलर वाहनों का बाजार सुस्त नजर आ रहा है। कई डीलर तो जीरो परसेंट डाउन पेमेंट और आधार कार्ड पर ही आसान नकद किश्तों में भुगतान का भी ऑफर दे रहे हैं। इसके बावजूद टू व्हीलर वाहन खरीदने में लोग विशेष रुची नहीं ले रहे हैं। इसका कारण ग्रामीण क्षेत्र में फसलों का मार खाना भी बताया जा रहा है। हीरो मोटर साइकल में भारी छूट के विज्ञापन है तो ई बाइक भी छह हजार रुपए में आनरोड़ दी जा रही है। इसके अलावा टीवीएस के लिए तो सौ प्रतिशत लोन के साथ साढ़े पांच प्रतिशत का ब्याज और पांच हजार रुपए केशबेक भी दिये जाने का ऑफर दिया गया है। Two wheeler market collapsed

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.