सुलेमानी चाय: अल्पसंख्यक मोर्चे में उड़ते तीरों की घोषणा

उषा ठाकुर के सुर में सुर मिला रहे बीजेपी के पठान

सुलेमानी चाय
सुलेमानी चाय

(सुलेमानी चाय)

अल्पसंख्यक मोर्चे में उड़ते तीरों की घोषणा

भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा की टीम देर से ही सही लेकिन आखिरकार घोषित हो ही गई, लेकिन लग रहा है की टीम का हर मेंबर असलम के लिए उड़ते तीर की तरह साबित हो रहा है , जब से टीम की घोषणा हुई है, तब से सोशल मीडिया पर कुछ एक को छोड़कर हर सदस्य की पोल पट्टी खोली जा रही है, कुछ पर कांग्रेसी होने का इल्जाम है, तो कुछ को बीजेपी के खिलाफ काम करने का तमगा मिला हुआ है, कुल मिलाकर इतनी देर से घोषित होने वाली अल्पसंख्यक मोर्चे की टीम पर कल से ही सवाल दागे जा रहे हैं ,इसी के साथ भजपा के सक्रिय कार्यकर्ताओं को नजर अंदाज करने का भी इल्जाम लग रहा है,कुल मिला कर फिलहाल तो मोर्चे के नगर अध्यक्ष के लिए हर सदस्य किसी उड़ते तीर से कम नही लग रहा।

उषा ठाकुर के सुर में सुर मिला रहे बीजेपी के पठान

तीन तलाक हिजाब ओर अजान जैसे कई मुद्दों पर अपने मुह में दही जमा कर बैठने वाले भजापा के मुस्लिम नेताओं की जबान अब खुलने लगी है,हाल ही में मंत्री उषा ठाकुर ने मुस्लिम समुदाय से कहा था कि अगर उनका मजहब इजाजत देता है तो ही वे गरबो में आये, बात भी सही है, लेकिन लगता है अब तक अपने घर्मिक मामलों को नजर अंदाज करने वाले बीजेपी के मुस्लिम नेता अब अपनी जबान खोलने लगे है, उषा ठाकुर के बयान पर महफूज़ पठान ने उनका समर्थन किया है,जो कि काबिले तारीफ है लेकिन मजे की बात तो तब है कि जब पार्टी समाज के खिलाफ आये तब भी अपने मुह के दही को निकाल कर सही को सही और गलत को गलत कहा जाय।

Also Read – (Sulemani Chai) सुलेमानी चाय: नो बिंदु पर नो दो ग्यारह हो सकती है तुकोगंज कमेटी…

खजराने के तालाब पर अनुशाली का तबेला

रिंग रोड पर खजराने के राजा बाबू अनुशाली पटेल साहब ने अपना तबेला तालाब की तरफ सरका दिया है ,पिछले दिनों निगमायुक्त प्रतिभा पाल ने तलाब का निरीक्षण कर कब्जो से मुक्त कराने का आदेश दिया था , लेकिन राजा बाबू की पहुच झोन अधिकारों की जेबो तक है जो की पटेल साहब की मेहरबानी से सर्दी में भी गर्म हो जाती है, अगर ऐसा ही चलता रहा तो पूरा तालाब कब तबेला बन जायेगा कह नही सकते।

दुमछल्ला…

आई की चौसर पर फिर मुल्तानी

प्रदेश में मुस्लिम समाज की सबसे बड़ी एजुकेशनल सोसयटी ,अब घोटालेबाजो से महफूज़ हो चुकी है, कई परेशानियों के बाद चुनाव भी आसानी से निपट चुके है, लेकिन नई कमेटी के सामने अब भी कई मुश्किलें है , कमेटी बनते ही बहुत से लोग लठ लेकर कमेटी में कूदना चाह रहे है, लेकिन कमेटी अभी सभी को दूर से ही सलाम कर रही है,इसी के साथ कमेटी अब नये मेम्बरो के लिए एक निर्धारित सदस्यता शुल्क निर्धारित करेगी, जिस्से सोसयटी के मुस्तक़बिल को रोशन करने में मदद मिलेगी।

-9977862299

(सुलेमानी चाय)

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.