Indore Picnic Spots : इधर पुराने बंद किए तो उत्साहियों ने नये ढूंढ लिए

शहर के आसपास 10 नये पिकनिक स्पॉट खड़े कर दिये, 15 दिनों के लिए कलेक्टर ने बंद किए थे पुराने पर्यटन क्षेत्र

Indore Picnic Spots
Indore Picnic Spots

इंदौर (धर्मेन्द्रसिंह चौहान)।
Indore Picnic Spots : अतिवर्षा के चलते जिला प्रशासन ने 15 दिनों के लिए सभी पिकनिक स्पॉट पर प्रतिबंध लगाया दिया तो हर सप्ताह पर्यटन करने वालो ने आस पास नए पिकनिक स्पॉट ढूंढ लिए। यह प्रसिद्ध स्पॉटों के एक से दो किलोमीटर के दायरे में ढूंढे गए है। यह ऐसे स्थान है जहां कोई आता जाता नही। गांव के रास्तों से भी दूर। ऐसे स्पॉट वीकेंड के दिन हजारों लोग पहुंच रहे है। इन नये पिकनिक स्पॉटों में जहां साफ पानी के साथ बहती हुई नदियां है तो तराई में सघन वन के साथ कुंड भी ढूंढ लिए हैं। हर सप्ताह अब युवा नये सिरे से इन नये पिकनिक स्पॉट पर पहुंचना शुरु हो गये हैं।

इंदौर जिला प्रशासन ने पिकनिक स्पाट, नदी और घाट पर आमजन के जाने पर आगामी 15 दिन के लिए पूरी तरह से रोक लगा दी है। अति बारिश की आशंका के चलते जिला प्रशासन ने यह निर्णय लिया था। मगर शहर में वीकेंड पर घूमने जाने वालों ने कई नए स्थान खोज निकाले है। जहां हजारों की संख्या में लोग पहुंच रहे है।

ALSO READ – गुस्ताखी माफ़-जमीनी नेता अब जमीन पर दिखाई देंगे, अपनों ने ही आग लगाई…जलवा पूजन बंद…हिसाब चुकता

दैनिक दोपहर की टीम ने इसे नए स्थलों का दौरा किया, तो पता चला कि पासिद्ध पर्यटन स्थल एवं पिकनिक स्पॉट जैसे चोरल, चोरल नदी, चोरल डेम, पातालपानी, सीतलामाता फाल, मेहंदीकुण्ड, तिन्छा फाल, कजलीगढ, वाचू पाइंट, जानापाव कुटी, कालाकुण्ड आदि स्थानों पर आम लोगो की आवाजाही पर रोक लगा देने के बाद लोगो ने इन्ही स्पॉटों के एक से दो किलोमीटर की दूरी के अंदर के ऐसे स्पॉट खोज लिए जो सूची में नही है। इस कारण यहां इन्हें कोई रोक भी नही पा रहा है। ऐसे स्थानों पर इस रविवार हजारों की संख्या में लोग देखे गए।

काटकूट, ओखला, कनाडा, चेनपुरा, श्यामपुरा, उदयनगर, पाण्डुतलाब, शेवनपानी, लिमडी, थरूर जैसे गांव है जहां चोरल के अलावा कनाडा, सुकड़ी नदी के साथ ही कई नाले भी बहते है। दोपहर की टीम ने गांव वालों से बात की तो पता चला घूमने वाले लोग ग्रामीणों से पता पूछते हुए घने जंगलों में पहुंच रहे है।

सुकड़ी नदी पर इस सप्ताह हजारों लोग पहुंचे

ऐसे लोग रविवार को बड़ी संख्या में सुनसान स्थानों पर पहुंच कर सैर सपाटा कर रहे है। पिछले दिनों चर्चा में आई सुकड़ी नदी पर इस सप्ताह हजारों लोग पहुंचे। यह नए स्पॉट चोरल नदी की सहायक सुकड़ी नदी के आस पास ज्यादा देखे जा रहे है। काटकूट, नाचनमोर, ओखला के साथ ही आक्या जैसे नजदीकी गांवों के आस पास कई मनोहारी दृश्य देखे जा रहे है जहां खतरा बहुत कम होता है। नदी का बहाव भी यहां पर तेज नही होता है। वहीं पैर फिसलने या बहने की संभावना भी न के बराबर होती है। ऐसे स्थानों को भी देखा गया है कि कई जगह दो नदी भी एक जगह मिल रही है। चोरल नदी के आस पास 30 से ज्यादा छोटे छोटे गांव प्रकृति की गोद मे बसे है। यही कारण है कि शहर के लोगो को यहां की प्रकृति सुंदरता अपनी ओर आकर्षित कर रही है।

 

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.