महंगे होंगे लोन, 20 साल वाले 30 लाख के होम लोन की किश्त 900 रुपए ज्यादा हो जाएगी

मुंबई (ब्यूरो)। भारतीय रिजर्व बैंक ने मौद्रिक नीति की समीक्षा बैठक में रेपो रेट आधा प्रदर्शन बढ़ाने का ऐलान कर दिया, जिससे सभी तरह के लोन महंगे होंगे। 20 साल वाले 20 लाख के होम लोन की किश्त अब 900 रुपए ज्यादा देना पड़ेगी।

बढ़ती महंगाई से चिंतित भारतीय रिजर्व बैंक रेपो रेट में 0.50 फीसदी इजाफा किया है। इससे रेपो रेट 4.90 फीसदी से बढ़कर 5.40 फीसदी हो गई है। यानी होम लोन से लेकर ऑटो और पर्सनल लोन सब कुछ महंगा होने वाला है और आपको ज्यादा ईएमआई चुकानी होगी। ब्याज दरों पर फैसले के लिए 3 अगस्त से मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी की मीटिंग चल रही थी।

आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास प्रेस कॉन्फ्रेंस में मीटिंग में लिए फैसलों की जानकारी दी। रेपो रेट वो दर होती है जिस पर आरबीआई से बैंकों को कर्ज मिलता है, जबकि रिवर्स रेपो रेट उस दर को कहते है जिस दर पर बैंकों को आरबीआई पैसा रखने पर ब्याज देती है। अभी यह 3.35 फीसदी है। जब आरबीआई रेपो रेट घटाता है, तो बैंक भी ग्राहकों के लिए ब्याज दरों को कम करते हैं। इससे ईएमआई भी घटती है। इसी तरह जब रेपो रेट में बढ़ोतरी होती है, तो ब्याज दरों में बढ़ोतरी के कारण ग्राहक के लिए कर्ज महंगा हो जाता है।

इस साल तीन बार बढ़ी दर

मॉनेटरी पॉलिसी की मीटिंग हर दो महीने में होती है। इस वित्त वर्ष की पहली मीटिंग अप्रैल में हुई थी। तब आरबीआई ने रेपो रेट को 4 फीसदी पर स्थिर रखा था। लेकिन आरबीआई ने 2 और 3 मई को इमरजेंसी मीटिंग बुलाकर रेपो रेट को 0.40 फीसदी बढ़ाकर 4.40 फीसदी कर दिया था।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.