इस बार राखी दो दिन बंधेगी

पूर्णिमा रहेगी मकर राशि की भद्रा का पाताललोक में रहेगा वास...

इंदौर। इस साल रक्षाबंधन पर भद्रा काल है,लेकिन मकर राशि की भद्रा का वास पाताललोक में है इसलिए इसका असर नहीं पड़ेगा। इसके साथ ही इस बार दो दिन पूर्णिमा तिथि है। पहले दिन यदि राखी ना बांधी जा सके तो दूसरे दिन सुबह पूर्मिमा तिथि समाप्त होने से पहले बांधी जा सकेगी।

ज्योतिषियों के अनुसार ११ अगस्त को पूर्णिमा तिथि पर भद्रा का साया है। इस बार मकर राशि की भद्रा पाताललोक में है। यदि किसी कारणवश इस दिन राखी नहीं बांध सके तो अगले दिन १२ अगस्त को सुबह ७ बजकर ५ मिनिट तक पूर्णिमा तिथि पर रक्षाबंधन मनाया जा सकेगा। पूर्णिमा तिथि पर चार योग का संयोग बन रहा है। आयुष्मान योग, सौभाग्य योग, रवि योग और शोभम योग जो सुखदायी है। प्रदोषकाल में रात्रि ८.५१ से ९.१३ बजे तक $है। इस काल में पूजन करना सर्वश्रेष्ठ माना जाता है।

राखी के मुहूर्त

आयुष्मान योग – १० अगस्त को शाम ७.३५ से ११ अगस्त दोपहर ३.३१ बजे तक, रवि योग – ११ अगस्त सुबह ५.३० से ६.५३ बजे तक, सौभाग्य योग – ११ अगस्त दोपहर ३.३२ से १२ अगस्त सुबह ११.३३ बजे तक, पूर्णिमा तिथि प्रारंभ – ११ अगस्त को सुबह १०.३८ से, समापन – १२ अगस्त को सुबह ७.५ बजे तक राखी बांधने का शुभ मुहूर्त, सुबह ६.८ से ८.१८ बजे तक, सुबह ९.२८ से १०.१४ बजे, अभिजीत मुहूर्त – ११.३७ से १२.२९ बजे, सुबह १२.४० से २.५५ बजे, शाम ६.५९ से ८.२४ बजे।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.