क्षेत्र क्र. 2 : कांग्रेस और भाजपा दोनों की ही नजरें टिकी

भाजपा का 8 वार्डों में तो कांग्रेस का 6 वार्डों में मजबूत होने का दावा

इंदौर। कांग्रेस और भाजपा के महापौर को लेकर सबसे ज्यादा नजरें क्षेत्र क्र. 2 पर टिकी हुई है। दोनों ही दल के अपने-अपने समीकरण जीत के दावे कर रहे हैं परंतु इस बार जहां क्षेत्र क्र. 2 में 60 प्रतिशत से भी कम मतदान को लेकर भाजपा के दिग्गज नेता भी मान रहे हैं कि इससे कुछ वार्डों में समीकरण बिगड़ रहे हैं। यहां पिछली बार 6 वार्ड ऐसे थे जहां 75 प्रतिशत से ऊपर मतदान हुआ था। इन सबके बाद भी क्षेत्र क्र. 2 में कैलाश विजयवर्गीय और रमेश मेंदोला की लहर के बीच भी कांग्रेस को इस क्षेत्र से 68 हजार से ज्यादा वोट हमेशा मिलते रहे हैं।

इस बार चुनावी समीकरण को लेकर जो दाना-बाना भाजपा ने बुना है उसके अनुसार वह 8 वार्डों में विजयी हो रही है। एक वार्ड कांग्रेस को और बाकी वार्डों में 50-50 प्रतिशत के हालात का दावा किया है तो दूसरी ओर कांग्रेस ने कम से कम 6 वार्ड इस बार जीतने का दावा किया है। कई वर्षों बाद कांग्रेस यहां वापसी की हालत में दिखाई दे रही है। क्षेत्र क्र. 2 के वार्ड 18 में भाजपा की सोनाली विजय परमार का मुकाबला कांग्रेस की ममता भूपेन्द्र चौहान से है। भूपेन्द्र चौहान यहां से पिछली बार भी पार्षद रहे। कांग्रेस यहां अपना मजबूत दावा बता रही है तो वार्ड 19 में भाजपा की संध्या राधाकिशन जायसवाल कामुकाबला कांग्रेस की अनीता पटेल से है। यहां मतदान का प्रतिशत पिछली बार से 12 प्रतिशत कम है। इस सीट से भी कांग्रेस अपना दावा बता रही है। वार्ड 20 गौरीनगर में भाजपा की कमला इन्द्र बहादुर सिंह का मुकाबला कांग्रेस की यशस्वी अमित पटेल से है। वार्ड 21 श्याम नगर में भाजपा के गणेश गोयल पर कांग्रेस चींटू चौकसे की जीत का दावा कर रही है।

यही स्थिति वार्ड 22 में चन्दूराव शिंदे और राजू भदौरिया के बीच है। कांग्रेस इसे अपने कोटे में जीता हुआ मान रही है। वार्ड 18 से 23 तक कांग्रेस को अपनी जीत पर पूरा भरोसा है। वार्ड 23 में भाजपा की शिवांगी वीरेन्द्र यादव का मुकाबला कांग्रेस की विनीता धर्मेन्द्र मौर्य से है। दूसरी ओर भाजपा वार्ड 24, 25, 26, 27, 28, 29 पर अपनी एकतरफा जीत मान रही है। दूसरी ओर कांग्रेस वार्ड 27 और 28 पर जीत का दावा कर रही है। वार्ड 27 से भाजपा के मुन्नालाल यादव का मुकाबला कंग्रेस के विनोद बब्बू यादव से है और वार्ड 28 में ज्योति शरद पंवार से कांग्रेस की राधा मुकेश यादव के बीच कड़ी टक्कर है। इधर वार्ड 30 कांग्रेस संघर्ष मान रही है और भाजपा भी इसे संघर्ष में मान रही है। वार्ड 30 में मनीषा दुलीचंद गागोरे भाजपा से तो वंदना केमरे कांग्रेस से है। इस वार्ड में 54 प्रतिशत मतदान ही हुआ है। वार्ड 31 भी दोनों ही दल 50 प्रतिशत ही मान रहे हंैं।

इस वार्ड में सबसे कम मतदान 48 प्रतिशत ही हुआ है। यहां के भाजपा उम्मीदवार पर आपराधिक प्रकरणों को लेकर भी विवाद है। वहीं वार्ड 32 में भाजपा के राजेन्द्र राठौर की जीत को लेकर कांग्रेस और भाजपा दोनों ही सहमत हैं दो दूसरी ओर वार्ड 33 में मनोज मिश्रा भाजपा के विनोद चौकसे से मुकाबला कर रहे हैं। इस वार्ड में भाजपा के बागी माया दावभट्ट ने भाजपा के समीकरण बिगाड़ दिए हैं। वार्ड 34 कांग्रेस और भाजपा दोनों ही मान रहे हैं कि यहां पर भाजपा जीत रही है।
वार्ड 35 लसुड़ियामोरी में भाजपा के लालसिंह सोलंकी का मुकाबला कांग्रेस के कपिल सोनकर से हैं। यह वार्ड भाजपा और कांग्रेस दोनों ही मान रही है कि कांग्रेस जीत रही है। वार्ड 36 निपानिया में भाजपा के सुरेश कुरवाड़े कांग्रेस के महेश पंचोली के सामने हैं। इस वार्ड मेें सुरेश कुरवाड़े को कड़ा संघर्ष करना पड़ रहा है। यह वार्ड भी 50-50 की स्थिति में दोनों ही दल मान रहे हैं।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.