50 करोड़ से ज्यादा लोगों ने किया योग

सुख, स्वास्थ्य और शांति को सेलिब्रेट करने का दिन - प्रधानमंत्री मोदी ने बेंगलुरू में किया योग

नई दिल्ली (ब्यूरो)। आज अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर दुनिया के 192 देशों के लोग सुबह से ही योग क्रिया करने में जुट गए। भारत में भी 50 करोड़ से ज्यादा लोगों ने आज योग किया। बड़ी संख्या में महिलाएं भी इस आयोजन में शामिल हुई। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बैंगलुरु में योग करने के बाद कहा कि सुख, स्वास्थ्य और शांति को सेलिब्रेट करने का यह दिन है। उन्होंने सभी के सूखी जीवन की कामना की। इधर मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने छात्रों के साथ योग किया।

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर पूरे देश में लोगों के बीच उत्साह देखा जा रहा है। प्रधानमंत्री मोदी, राष्ट्रपति कोविंद से लेकर सेना के जवानों ने योगासन कर दुनिया में योग की ताकत का संदेश दिया। कोरोना महामारी के कारण वर्ष 2020 व 2021 में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस सार्वजनिक तौर पर नहीं मनाया गया था। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और अन्य सांसदों ने संसद परिसर में योग का प्रदर्शन किया। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने योगासन में भाग लिया। योगा करते सीएम की कुछ तस्वीरें भी सामने आई हैं।

भारत-तिब्बत सीमा पुलिस की केंद्रीय स्काई टीम ने भारी बर्फ के बीच 14,000 फीट की ऊंचाई पर रोहतांग दर्रे पर योगा दिवस समारोह में भाग लिया। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने योगा दिवस के अवसर पर राष्ट्रपति भवन में योग किया। उन्होंने कहा कि योग प्राचीन भारतीय विरासत का एक हिस्सा है। यह मानवता के लिए भारत का उपहार, स्वास्थ्य और कल्याण के लिए एक समग्र दृष्टिकोण है। योग मन, शरीर और आत्मा को संतुलित करता है। मध्यप्रदेश में योग आयोग बनेगा। इसकी पूरी तैयारी कर ली है, जल्द ही कार्य शुरू कर दिए जाएंगे। साथ ही स्कूलों में भी योग की शिक्षा दी जाएगी। इससे बच्चों को लाभ मिलेगा। यह घोषणा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर मंगलवार को मुख्यमंत्री निवास स्थित पंडाल में आयोजित कार्यक्रम के दौरान की। उधर मुख्यमंत्री ने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि रोज अपने लिए 45 मिनट का समय निकालें। योग का मतलब शरीर का व्यायाम नहीं है, बल्कि मन, बुद्धि, तन आदि का शुद्धिकरण है।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.