अग्निपथ के विरोध में भारत बंद, ट्रेनें रोकी, वाहन फूंके

बिहार-झारखंड में हाई अलर्ट, पांच दिन से ट्रेने नहीं चलने से यात्री परेशान, रेलवे को भारी नुकसान

नई दिल्ली (ब्यूरो)। अग्निपथ सेना भर्ती योजना के विरोध में आज पांचवे दिन भारत बंद का आव्हान किया गया है, जिसके कारण बिहार-झारखंड में तोड़फोड़ हो रही है। कई जगह ट्रेनें रोकने की घटनाएं हुई है। पिछले पांच दिनों से आंदोलन के चलते ट्रेनें नहीं चलने से लाखों यात्री परेशान हो रहे हैं, जिसके कारण रेलवे को भी करोड़ों रुपए का नुकसान हुआ है। खासकर बिहार और झारखंड में हाई अलर्ट जारी कर दिया है वहीं सरकार और सेना इस फैसले को वापस लेने को तैयार नहीं है।

देश की सेना साफ कर चुकी है कि अग्निपथ योजना वापस नहीं होगी। इसके बावजूद सोमवार को कुछ संगठनों ने भारत बंद का ऐलान किया है। सोशल मीडिया के जरिए भारत बंद की अपील की गई है। इसे देखते हुए बिहार, झारखंड, पंजाब समेत अन्य राज्यों में सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त किए गए हैं। बिहार के 20 जिलों में इंटरनेट बंद है। मुजफ्फरपुर में धारा 144 लगी है और अफवाहों को रोकने के लिए इंटरनेट बंद किए गया है। यहां 6 कोचिंग सेंटर्स के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। अब तक पूरे बिहार से कुल 804 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। आज भी 300 से अधिक ट्रेन रद्द रहेंगी। पंजाब में भी अलर्ट है। झारखंड के रांची में आज स्कूल बंद हैं। वहीं नोएडा में भी पुलिस सख्त है।

कृषि कानून वापस लिए जाने के बाद अग्निपथ योजना को लेकर इसी तरह का राजनीतिक दबाव बनाने वाली कांग्रेस पर बीजेपी ने विवादों में सेना को घेरने का आरोप लगाया है। बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि इन्हीं लोगों ने पहले सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक पर भी सवाल उठाकर मनोबल गिराने का काम किया है. अब सेना में भर्ती को लेकर सियासी रोटियां भी पक रही हैं. जंतर मंतर पर कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा के भाषण का जिक्र करते हुए संबित ने कहा, उन्होंने खुद कहा है कि कांग्रेस का उद्देश्य नरेंद्र मोदी सरकार को गिराना है। इसके लिए कांग्रेस युवाओं को बरगला रही है, कई बार ऐसे असफल प्रयास कर चुकी है।

अग्निवीरों को महिंद्रा ने दिया नौकरी का ऑफर
महिंद्रा समूह के अध्यक्ष आनंद महिंद्रा ने ट्वीट करते हुए लिखा कि अग्निपथ स्कीम के ऐलान के बाद जिस तरह की हिंसा हो रही है, उससे मैं काफी दुखी और निराश हूं. पिछले साल जब इस योजना पर विचार किया जा रहा था, उस वक्त मैंने कहा था कि अग्निवीर को जो अनुशासन और कौशल मिलेगा वह उन्हें निश्चित तौर से रोजगार के योग्य बनाएगा. उन्होंने आगे लिखा कि महिंद्रा ग्रुप इस तरह के प्रशिक्षित और सक्षम युवाओं को हमारे यहां नौकरी का मौका देगा।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.