बड़े आयोजनों को लेकर आज से लगेगी लगाम

दुकानदारों को बारे में अगले सप्ताह होगा निर्णय शनिवार तक 300 प्रतिदिन से आंकड़ा पार हो जाएगा

इंदौर। कोरोना संक्रमण के बढ़ते कदम को लेकर कलेक्टर मनीषसिंह ने शहरहित में कल कड़े कदम उठाने के संकेत दिए हैं। इस संकेत से आमजन में भय का वातावरण बना हुआ है। संक्रमण को रोकने अब प्रशासन कड़े कदम उठाने जा रहा है। इसके चलते सबसे पहले उन आयोजनों पर लगाम कसी जाएगी, जहां 100 से अधिक लोग इकट्ठा होंगे। ऐसे आयोजनों को अनुमति भी नहीं दी जाएगी। वहीं, दुकानदारों को लेकर निर्णय अगले सप्ताह लिया जाएगा। यह निर्णय क्या होगा, इस पर अभी विचार किया जा रहा है। मरीजों का आंकड़ा इसी तरह बढ़ता रहा तो संभवतया शनिवार तक 300 प्रतिदिन मरीज सामने आएंगे। तब स्थिति भयावह हो जाएगी। यह सब निर्णय आज होने वाली क्राइसेस मैनेजमेंट की बैठक में लिया जाएगा।
तीन दिन में शहर में 327 मरीज कोरोना संक्र मित निकले हैं। इतनी बड़ी संख्या में मरीज सामने आने से प्रशासन की चिंता बढ़ गई है। इसके बावजूद लोग सुरक्षा को लेकर लापरवाह बने हुए हैं। बाजारों में वैवाहिक सीजन को लेकर खरीदी का सिलसिला चल रहा है। दुकानों पर जमकर भीड़ उमड़ रही है। मध्य क्षेत्र में सड़कों पर अत्यधिक मात्रा में लोग पहुंच रहे हैं, न तो दुकानदार गंभीर है और न ग्राहक। नतीजतन, संक्रमण की चेन बढ़ती जा रही है। शहर में लगातार आयोजन हो रहे हैं। इन आयोजनों में भीड़ उमड़ रही है, जबकि प्रशासन के आदेश हैं कि भीड़ को नियंत्रित किया जाए। प्रशासन के आदेश नहीं होने से आयोजक जमकर भीड़ जुटाने में लगे हुए हैं। आगामी 15 जनवरी से वैवाहिक आयोजनों की धूम शहर में मचने लगेगी। आयोजन को लेकर बाजार में ग्राहक खरीददारी में जुटे हुए हैं। व्यापारी भी पैसा कमाने सुरक्षा व्यवस्था माकूल करना भूल गए हैं। उधर, शहर में कई सामाजिक संस्थाएं बड़े आयोजन करा रही है, जिसमें रोजाना हजारों की संख्या में लोग जुटते हैं। सूत्रों की मानें तो इन आयोजनों में कोरोना गाइड लाइन का मखौल उड़ाया जाता है। आयोजक और कार्यक्रम में शामिल लोग मास्क का उपयोग नहीं करते। सोशल डिस्टेंंिसग पर भी ध्यान नहीं दिया जाता। आयोजनों में भीड़ काबू करने अब इन्हें पूरी तरह बंदिशों में जकड़ लिया जाएगा। बताते हैं, शहर में छोटे आयोजन भी अनिश्चितकाल तक बंद करने का निर्णय लिया जा सकता है।
दुकानों को लेकर भी विचार
शहर में दुकानों पर जमकर भीड़ उमड़ रही है। बाहरी राज्यों से भी बड़ी संख्या में लोग आवाजाही करते हैं। कपड़ा मार्केट, सराफा, किराना और इलेक्ट्रानिक आयटम की खरीदी बिक्री बाहरी राज्यों तक होती है। सूत्रों ने बताया कि मध्य क्षेत्र में महाराष्ट्र, मुंबई और दिल्ली से रोजाना कई व्यापारी लेनदेन करने आते हैैं। इन तीनों जगह मरीजों की संख्या बढ़ गई है। यहां के व्यापारी इंदौर आने से संक्रमण बढ़ने से इनकार नहीं किया जा सकता। इसलिए बाजारों को जल्द बंद करने पर विचार हो सकता है।
गार्डन संचालक नहीं कर रहे बुकिंग
संक्रमण बढ़ने से यह कयास लगाए जा रहे हैं कि आने वाले दिनों में मरीजों की आंकड़ा 200 से ऊपर पहुंच सकता है। इस आंकड़े के आसपास पहुंचने की आशंका के बीच मैरिज गार्डन संचालकों, धर्मशालाओं, होटलों में सीमित समय के लिए बुकिंग बंद कर दी है। जिन लोगों ने बुकिंग कराई है, वे भी प्रशासन के आदेश का इंतजार कर रहे हैं।
रात्रिकालीन कर्फ्यू की बढ़ सकती है अवधि
वर्तमान में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के आदेश पर शहर में रात्रिकालीन कर्फ्यू रात 11 से सुबह 5 बजे तक लागू किया है। संक्रमण की संख्या लगातार भयावह होने से यह भी कयास लगाए जा रहे हैं कि रात्रिकालीन कर्फ्यू का समय भी बढ़ सकता है। संभवतया कर्फ्यू रात 9 से शुरू हो जाएगा। ऐसा होने पर रात 8.30 बजे प्रतिष्ठान और दुकानें बंद करना होगी।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.