प्रशासन की दीपावली के बाद बड़ी कार्रवाई, 60 से अधिक ब्रोकर निशाने पर, सौदों की जानकारी मिली

जमीनों के बड़े सौदे में लाखों रुपए की दलाली और हेराफेरी के सूत्र मिले

 

इंदौर। एक ओर जहां दीपावली के पूर्व प्रापर्टी क्षेत्र में तेजी से बुकिंग का कामकाज होता था तो पिछले दिनों डायरियों में हुई बुकिंग के बाद अब नये सिरे से किसी भी प्रकार की बुकिंग करने को ब्रोकर और बिल्डर दोनों ही तैयार नहीं है। दूसरी ओर ९ ब्रोकरों से जानकारी लेने के लिए नोटिस जारी किये गये थे। इनमे से दो ब्रोकरों ने ६० से अधिक नाम नये ब्रोकरों के बताये हैं जो लंबे समय से इस कारोबार में जुड़े हुए हैं। साथ ही जमीनों के बड़े सौदे भी इन्हीं दलालों के माध्यम से हुए हैं। प्रशासन के पास अब कार्रवाई के लिए बड़ी सूची तैयार हो गई है। कल भी दलालों द्वारा डायरियों पर बेचे गए प्लाटों की सूची भी मिल गई है। सुपर कारिडोर, उज्जैन रोड और बायपास पर हुए सर्वाधिक सौदों की जानकारी अभी मौखिक दलालों ने दी है। अनंत नारायण लखोटिया ने 10 लाख करोड़ रुपए के सौदे डायरियों पर करने की जानकारी दी है। इसमें 15 से 20 बड़े सौदे भी शामिल है। संजय बागरेचा ने भी 70 सौदे करवाने के बारे में कहा है। इसे लेकर दीपावली के बाद शहर में एक साथ कई कार्रवाई की जाएगी। इधर आयकर विभाग ने भी अपनी कार्रवाई की प्रक्रिया शुरु कर दी है। जिसके परिणाम भी जल्द दिखेंगे।
शहर में डायरियों पर ६०० करोड़ से अधिक के कामकाज के बाद अब प्रशासन बिल्डरों के अलावा ऐसे तमाम ब्रोकरों को समेटने की तैयारी कर रहा है जो सौदों के बीच में बड़ी दलाली का खेल खेल रहे थे। कल दलालों की फिर पेशी के बाद प्रशासन को डायरियों के बारे में तो विशेष जानकारी नहीं मिली परंतु दूसरी ओर प्रशासन ने दो दलालों से पूछताछ के बाद शहर में बड़ी दलाली कर रहे दलालों की एक लंबी सूची हासिल कर ली है। जिला प्रशासन द्वारा शहर में डायरियों में हो रही जालसाजी को लेकर की गई कार्रवाई को अब प्रदेश में मुख्यमंत्री माडल के रुप में भी पेश करेंगे। इस कार्रवाई से जमीनों के खेल में दो नंबर के पैसों को लेकर अभी तक चल रही हेराफेरी पर अब इस कार्रवाई के बाद रोक लग गई है। दस साल से ज्यादा समय से अभी भी कई लोग डायरियां लेकर ही भटक रहे हैं। जिन्हें कब्जे और रजिस्ट्री दोनों ही नहीं मिली है। खंडवा रोड़ पर महालक्ष्मी धाम में लाखों स्के. फीट डायरियों पर बेचे जाने के बाद अभी तक यहां प्लाट नहीं मिले हैं। इस मामले में पीड़ित लोगों ने शिकायत भी की है। दूसरी ओर आशीष दास की पिनेकल में भी डायरियों का जमकर कामकाज हुआ था इनमे अभी भी कई डायरियां बाजार में ही घूम रही है। ब्रोकरों के सूत्रों का कहना है कि १३० ब्रोकरों की सूची शीघ्र ही बाजार में आयेगी जिनपर बड़ी कार्रवाई के आसार है।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.