Gujarat Chunav -“चुप्पा” और “गुप्पा” वोटर के बीच उलझ गया है चुनाव

गुजरात विधानसभा चुनाव समीकरण - 6

Gujarat Chunav
Gujarat Chunav

अहमदाबाद (ब्यूरो)।

गुजरात विधानसभा का चुनाव चुप्पा और गुप्पा वोटर के बीच उलझकर रह गया है। इस बार चुप्पा वोटर की संख्या 18 प्रतिशत जा रही है, जो निर्णायक भी होते हैं और इन्हें फ्लोटिंग वोट भी कहा जाता है, क्योंकि इनकी किसी दल पर स्थायी निष्ठा नहीं रहती है, जबकि पहले के चुनाव में चुप्पा वोटर की संख्या 6 प्रतिशत तक रही है। गुजरात के 19 जिलों की 89 सीटों पर कल मतदान होना है वहीं दूसरे दौर के चरण में 87 सीटों के लिए राजनेताओं ने प्रचार में पूरी ताकत झौंक दी है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, आप पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल की अगले चार दिनों में 70 से ज्यादा सभाएं व रैलियां होने वाली है। पारंपरिक गढ़ों को बचाने के लिए दिग्गजों ने ताकत झौंक दी है वहीं त्रिकोणिय मुकाबले के कारण कई सीटों के समीकरण बिगड़ते नजर आ रहे हैं।

भावनगर में भगवा गढ़ बरकरार रखने की चुनौती, आप व कांग्रेस ने पेचीदा बनाया समीकरण

भावनगर। सूरत और राजकोट के बाद सबसे ज्यादा विधानसभा सीटों वाला भावनगर है। सात विधानसभा सीटों वाला यह जिला भाजपा का गढ़ बना हुआ है। वर्ष 2012 और 2017 के चुनाव में यहां भाजपा ने छह-छह सीटें जीती थी। दोनों बार एक-एक सीट कांग्रेस के खाते में गई थी। इस बार कांग्रेस और आप की दोहरी चुनौती के बीच गढ़ को बचाने के लिए भाजपा ने सारे दांव चल दिए हैं।

चुनाव की घोषणा के बाद पीएम नरेंद्र मोदी तीन बार भावनगर आ चुके हैं। दो सीटों के प्रत्याशी भी बदल दिए गए हैं।
पलिटाना में जहां मोदी ने पहले चरण का चुनाव प्रचार खत्म होने से एक दिन पहले सोमवार को चुनावी जनसभा कर कांग्रेस को घेरा था, वहां की राधाबेन बताती हैं, यहां चुनाव ठीक चल रहा है। मोदी भाई का भावनगर से खास जुड़ाव है। वह प्रचार अभियान के प्रारंभ से अब तक तीन बार इस जिले में आ चुके हैं। चुनाव घोषणा के तत्काल बाद वह भावनगर में एक सामूहिक विवाह कार्यक्रम (पापा की परी) में शामिल होने आए थे। उस कार्यक्रम में ऐसी तमाम बेटियों का विवाह हुआ था जिनके पिता नहीं हैं। इतने बड़े पद पर होकर कोई अपना मानकर ही समय निकालता है।

Gujarat Chunav
Gujarat Chunav


भावनगर कस्बे के कॉलेज स्टूडेंट अतीश कहते हैं कि, मोदी जी ने यह सही कहा है कि जब कांग्रेस राज था, तब गुजरात में बम विस्फोट बहुत आम थे। अब लोग सुरक्षित महसूस करते हैं। यह बहुत बड़ी बात है और लोगों के दिमाग में भी है। वह कहते हैं कि मोदी पर गुजरातियों को गर्व है। लेकिन, गुजरात में भाजपा कोई ऐसा पक्का नेता नहीं बनाती जो खुलकर कुछ कर पाए। बार-बार मुख्यमंत्री बदल देते हैं। मोदी के पीएम बनने के बाद तीन सीएम बनाए जा चुके हैं। ऐन चुनाव के वक्त दूसरे दल से लोगों को लाकर टिकट दे देते हैं, सालों से कार्यकर्ता बनकर काम करने वाले मुंह ताकते रह जाते हैं। यह अच्छा नहीं है। इस बार मोदी जी के नाम पर भले आ जाएं, ऐसे रहा तो आगे मुश्किल हो जाएगी।

भावनगर पूरब में मिले इलियास अली कहते हैं, कि हम दो चुनाव से भाजपा को वोट दे रहे हैं। विकास के काम खूब हुए हैं। बड़ी-बड़ी सड़कें, फ्लाईओवर बने हैं। लेकिन, लोग महंगाई से बहुत परेशान हैं। चाहे जितना कमाइये, बचत नहीं हो पाती है। महंगी पढ़ाई और इलाज घर-घर का दर्द है। वह कहते हैं कि कांग्रेस यहां पहले से कमजोर हैं। जीतेंगे तो किसे सीएम बनाएंगे, यह भी नहीं बताया। दूसरी ओर आप ने महंगाई का मुद्दा उठाकर और उसे हल करने की बात कर हलचल मचा रखी है। उनका मुख्यमंत्री चेहरा भी है। गरीब और मुसलमान आप की बात को बहुत अच्छे से सुन रहा है, देखिए क्या होता है?Gujarat Chunav

Also Read – गुजरात चुनाव के ताजा समीकरण – 4

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी व केंद्रीय राज्य मंत्री मीनाक्षी लेखी मालवीय नगर और केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल व सांसद डा. हर्षवर्धन सदर बाजार में रोड शो से मतदाताओं से संपर्क करेंगे, जबकि केंद्रीय मंत्री भूपेन्द्र यादव व सांसद रमेश बिधूड़ी देवली, केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर राजौरी गार्डन, केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया रोहताश नगर, केंद्रीय राज्य मंत्री जितेन्द्र सिंह व सांसद हंसराज हंस सुल्तानपुर माजरा, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान व सांसद गौतम गंभीर कृष्णा नगर, हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर मोती नगर, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी व सांसद प्रवेश वर्मा मटियाला, युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व सांसद तेजस्वी सूर्या बुराड़ी, सांसद मनोज तिवारी रिठाला, सांसद रवि किशन पड़पड़गंज, सांसद दिनेश लाल यादव ‘निरहुआÓ छतरपुर और राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ. संबित पात्रा त्रिनगर विधानसभा क्षेत्र में रोड शो करेंगे।

दिल्ली नगर निगम चुनाव में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी पूरी तरह उतर गए हैं। प्रचार के आखिरी दौर में मंगलवार को केजरीवाल ने चिराग दिल्ली इलाके में घर-घर जाकर लोगों से मुलाकात की। मतदाताओं के गिले-शिकवे सुनने के साथ केजरीवाल ने भरोसा दिलाया कि वह दो करोड़ दिल्लीवासियों के साथ मिलकर राजधानी को साफ-स्वच्छ और सुंदर बनाएंगे। Gujarat Chunav

केजरीवाल का कहना है कि एमसीडी में एक मौका देने के लिए लोग तैयार हैं। केजरीवाल ने भाजपा पर तंज कसा कि दिल्लीवालों ने दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी की दुकान बद कर दी है। अब इन लोगों ने वीडियो कंपनी चालू की है, लेकिन पांच-छह दिन से कोई वीडियो नहीं आया। इससे लगता है कि अब यह भी बंद हो गई है। मुख्यमंत्री ने दावा किया कि इस बार दिल्ली में उनकी 230 से ज्यादा सीटें आएंगी।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.