प्राधिकरण बोर्ड में जाएंगे शिंदे और नरूका

एमआईसी के साथ ही बोर्ड के गठन की तैयारी

इंदौर। निकाय चुनाव के साथ ही अब एमआईसी के गठन की कवायद तेजी से शुरू हो गई है। इस बार एमआईसी में जहां युवा ओर पूरी तरह नए चेहरे दिखाई देेंगे वहीं इसी के साथ प्राधिकरण बोर्ड का गठन करने की तैयारी संगठन स्तर पर हो चुकी है। नए महापौर पुष्यमित्र भार्गव के शपथगृहण में मुख्यमंत्री के अलावा केेन्द्रीय मंत्री के आने को लेकर लगभग हरी झंडीे हो चुकी हैं। वहीं दूसरी ओर प्राधिकरण में नए बोर्ड का गठन भी इसी के साथ हो जाएगा।


नगर निगम नए महापौर के कार्यकाल में सौ दिन का एजेंडा बनाकर ट्रैफिक प्लान ओर जल निकासी को लेकर ऐलान करेंगी तो वहीं विकास प्राधिकरण में चंदू शिंदे ओर अजय नरूका के अलावा शंकर यादव के लिए द्वार खुल रहे हैं।

31 जुलाई तक जहां महापौर नव निर्वाचित निगम पार्षदों के साथ शपथ ले लेंगे तो 5 अगस्त तक नई एमआईसी का गठन हो जाएगा। नई एमआईसी में कौन-कौन से चेहरे होंगे इसे लेकर दो से तीन दौर की बातचीत हो चुकी है। नई एमआईसी में विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 1 से एक, दो,चार व पांच से दो-दो वहीं क्षेत्र क्रामांक तीन व राऊ से एक-एक नाम लिया जाएगा। निगम सभापति का पद इस बार भी क्षेत्र क्रमांक दो के पास ही रहेंगा। एमआईसी चयन में सुदर्शन गुप्ता, रमेश मेंदोला, आकाश विजयवर्गीय, मालिनी गौड़, महेन्द्र हार्डिया, मधु वर्मा व सुमित्रा महाजन की बड़ी भूमिका रहेंगी। इस बार एमआईसी में अनुभव व युवाओं के संगम को लेकर नई भाजपा खड़ी दिखाई देंगी तो वहीं इंदौर विकास प्राधिकरण में दो उपाध्यक्षों के साथ 10 सदस्यों की नियुक्ति होने जा रही हैं। प्राधिकरण उपाध्यक्ष के रूप में चंदू शिंदे, अजयसिंह नरूका ओर शंकर यादव के नाम पर लगभग सहमति हो चुकी है। जिन्हें नगर निगम में उम्मीदवारी नहीं मिली हैे ऐसे लोगों को भी प्राधिकरण बोर्ड में जगह दी जा ेरही है। उल्लेखनीय है कि अगले साल विधान सभा चुनाव होने के कारण प्राधिकरण में नए बोर्ड को काम करने के लिए एक साल का ही समय लगभग मिलेंगा। दूसरी ओर चार माह के अंदर ही नगर निगम के एल्डरमैन भी नियुक्त कर दिए जाएंगे। भाजपा आने वाले चुनाव को लेकर वरिष्ठ कार्यकताओं को विभिन्न पदों पर तेजी से नियुक्त करने को लेकर अपनी तैयारी शुरू कर रही है।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.