गैस की आसमान छूती कीमतें अब होगी छूमंतर

10 साल के लिए करना होगा एकमुश्त 20 से 30 हजार खर्च

इंदौर। पेट्रोल-डीजल के साथ गैस की बढ़ती कीमतों ने जहां आम आदमी की जेब का बजट गड़बड़ा दिया, वहीं हर घर के चूल्हे की आग भी ओर भी भड़का दी है, मगर अब राहत भरी खबर आ रही है। इसके तहत आसमान छूती गैस की कीमतें जल्द ही छूमंतर होने वाली है। इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन जल्द ही सोलर चूल्हे को लांच करने जा रहा है। इस चूल्हे की उम्र 10 साल होगी। जबकि इसको खरीदने पर 20 से 30 हजार खर्च करने होंगे।

आग के बगैर चूल्हा जलाने की कल्पना भी नहीं की जा सकती, मगर अब यह कहावत बदलने वाली है। भारत सरकार की तरफ से इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन जल्द ही सोलर चूल्हे को लांच करने जा रहा है, जो सौर ऊर्जा से चलेगा, यानी इसके लिए गैस नहीं बल्कि सूरज की किरणें चाहिए, जिससे ये चार्ज होगा ओर स्वादिष्ट भोजन तैयार करेगा। आवश्यकता ही आविष्कार की जननी है, यह हर आवश्यकता पर साबित होता है। दिनोंदिन पैट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों ने आम आदमी की जेब पर बोझ डाला। वहीं गैस की आसमान छूती कीमतों ने रसोई घर का बजट ही गड़बड़ा दिया।

ऐसे में आम आदमी को राहत देने के लिए नए-नए प्रयोग किए जाने लगे। इसमें सबसे पहले पेट्रोल-डीजल के वाहनो की जगह इलेक्ट्रॉनिक व्हीकल लेने लगे हैं। वर्तमान में इन्हें देश-विदेश में बहुत सराहा जा रहा है। वहीं गैस के बदले सौर ऊर्जा से चलने वाले सोलर चूल्हे जल्द ही बाजार में आने वाले हैं। सरकार की तरफ से इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन सोलर चूल्हे को लांच करने वाला है, जो सौर ऊर्जा से चलेगा यानी इसके लिए गैस नहीं बल्कि सूरज की किरणें चाहिए जिससे ये चार्ज होगा। अब खाना बनाने के लिए गैस का बटन ऑन किए बगैर ही आप अपना पसंदीदा खाना बनाकर खा सकते हैं। आने वाले समय मे बाजार में कई तरह की इलेक्ट्रॉनिक चीजें जैसे ओवन, इंडक्शन चूल्हा आदि मौजूद होगा। उस समय को कभी नहीं भूला जा सकता, जब लोग लकड़ियों के चूल्हे पर खाना बनाते थे। फिर गैस के चूल्हे से खाना बनाना ओर आसान सा हो गया है, लेकिन एक दिक्कत है गैस सिलेंडर को बार-बार भरवाने की। सिर्फ इतना ही नहीं, बल्कि गैस सिलेंडर के बढ़ते दाम भी लोगों को खासा परेशान करते हैं। मगर अब सोलर चूल्हे से जहां घर का बजट बरकरार रहेगा, वहीं गैस की कीमतें बढ़ने का डर भी खत्म हो जाएगा, जिससे चलते आम आदमी की गैस के सिलेंडर पर निर्भरता बहुत हद तक कम हो जाएंगी।

नए अवतार का पुराना नाम
एक जमाना था जब कपास की बाती और केरोसिन से जलने वाला चूल्हा बाजार में आया था। नाम था नूतन चूल्हा अब वही पुराना नूतन चूल्हा नया अवतार लेकर बाजार में आने वाला है। फर्क सिर्फ इतना वह केरोसिन से जलता था मगर यह सौर ऊर्जा से जलेगा। इस चूल्हे की लाइफ 10 साल बताई गई है। यह चूल्हा एक केबल तार के जरिए सोलर प्लेट से जुड़ा होगा और ये सोलर प्लेट छत पर रखी जाएंगी। सोलर प्लेट से ऊर्जा पैदा होगी जो केबल के जरिए चूल्हे तक पहुंचती है, जिससे आप रात में भी खाना बना सकते हैं। इस पर 10 साल ग्यारंटी बताई जा रही है। वहीं इसकी शुरुआती कीमत 20 से 30 हजार रुपए आएंगी।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.