जीत के आंकलन के बाद अब मतगणना की रणनीति, कांग्रेस में अनुभवियों के नाम तैयार

शाम 5 बजे तक लिए जाएंगे प्रत्याशी प्रतिनिधियों के आवेदन

शार्दुल राठौर
इंदौर। इंदौर 6 जुलाई को नगरीय निकाय चुनाव में वोटिंग प्रतिशत कम होने के बाद से हार जीत का आंकलन करने में लगे प्रत्याशी अब पूरा फोकस मतगणना के दिन की रणनीति पर लगा रहे है। मतगणना के दिन प्रत्याशियों के प्रतिनिधियों को मतगणना स्थल पर प्रवेश दिया जाएगा, जिसके आवेदन का आज अंतिम दिन है। भाजपा और कांग्रेस दोनों ही दलों ने मतगणना वाले दिन भी दमदारी से अपनी बात रखने के लिए टेबल पर बैठने वाले प्रतिनिधियों को विशेष ट्रेनिंग दी है।


नगर निगम चुनाव में मतदान के बाद अब अभी को मतगणना का बेसब्री से इंतजार है। मतगणना के दौरान निगरानी रखने के लिए भाजपा और कांग्रेस ने अपनी अपनी तैयारी शुरु कर दी है, इसके लिए महापौर और पार्षद पद के प्रत्याशियों को विशेष ट्रेंनिग दी जा रही है। भजपा अपने कार्यकर्तओं को मतगणना टेबल पर निगरानी रखने के गुर सीखा रही है, तो कांग्रेस इस बार मतगणना को लेकर ज्यादा सतर्क है, इस बार कम मतदान होने के साथ हार जीत का अंतर कम होने की आशंका के चलते कांग्रेस ने पूर्व पार्षदों और वरिष्ठ कांग्रेसियों को मतगणना में ड्यूटी लगाने का फैसला लिया है। इसके लिए कांग्रेस महापौर प्रत्याशी संजय शुक्ला खुद कई नेताओं से चर्चा कर रहे हैं।
कांग्रेस पार्टी इस बार नगर निगम चुनाव में जितनी ताकत से लड़ी हैं, उतनी ही ताकत से 85 वार्ड प्रत्याशियों की मतगणना के दौरान भी झोंकी जाएगी। वहीं भाजपा की रणनीति अभी स्पष्ट नहीं है। हालांकि प्रत्याशी प्रतिनधियों के नाम जरूर तय कर लिए गए है।

प्रत्याशियों के प्रतिनिधियों के आवेदन का आज अंतिम दिन
मतगणना भवन में प्रवेश हेतु अभ्यर्थी तथा उनके निर्वाचन अभिकर्ता को रिटर्निंग अथवा सहायक रिटर्निंग अधिकारी द्वारा जारी पहचान पत्र के माध्यम से प्रवेश दिया जायेगा।
अभिकर्ता के लिये पहचान पत्र पृथक से जारी किये जायेंगे। राजनीतिक पार्टियां अपने प्रतिनधियों के नाम आज शाम 5 बजे तक रिटर्निंग अथवा सहायक रिटर्निंग अधिकारी को सूची सहित आवेदन प्रस्तुत कर सकते हैं। मतगणना स्थल पर अभ्यर्थियों के अधिकृत गणना अभिकर्ताओं को ही प्रवेश दिया जायेगा। प्रवेश के लिये उन्हें निर्धारित प्राधिकृत पत्र प्रस्तुत करना होंगे तथा उन्हें अपने नियुक्ति पत्र की द्वितीय अनुप्रमाणित प्रतियां भी प्रस्तुत करना होगी।

हॉल में 105 टेबलों पर होगी मतगणना
नेहरू स्टेडियम स्थित मतगणना स्थल पर मतगणना के लिये कुल 8 हॉल में व्यवस्था की गई है। इसमें से 6 हॉल में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन से तथा 2 हॉल में डाक मतपत्रों से गिनती की जायेगी। गणना के लिये कुल 105 टेबलें लगाई जा रही हैं। इनमें से 97 टेबल ईवीएम से मतों की गणना के लिये एवं शेष टेबलें डाक मतपत्रों की गिनती के लिये रहेंगी। मतगणना के लिए दो एजेंट महापौर और एक एजेंट पार्षद प्रत्याशी का रहेगा और अगर 20 से अधिक बूथ है, तो उसमें दो दो एजेंट रहेंगे।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.