महारथियों के क्षेत्र में कांटे की टक्कर

कांग्रेस प्रत्याशी ने कहा 30 करोड़ से अधिक के विकास कार्य करवाए, भाजपा ने जीत के लिए बनाई विशेष रणनीति

इंदौर। भाजपा-कांग्रेस ने इस बार नगर निगम चुनाव में कई वार्डों में दिग्गज नेताओं को भिड़ा दिया है जहां कोई भी प्रत्याशी एकतरफा जीत का दावा नहीं कर रहा है। बाणगंगा वार्ड भी इसी कड़ी में है। यहां 10 साल से पार्षद रही विनितिका दीपू यादव हैट्रिक लगाने के लिए जहां पूरी ताकत से लगी है। पिछले चुनाव में विनितिका ने भाजपा की ममता कश्यप को साढ़े 4 हजार मतों से शिकस्त दी थी। इस बार पूर्व एमआईसी सदस्य संतोष सिंह गौर को भाजपा ने मैदान में उतारा है। भाजपा-कांग्रेस के दिग्गज नेताओं के इस वार्ड में कांटे की टक्कर हो सकती है। पिछले दो कार्यकाल में विनितिका दीपू यादव ने 30 करोड़ से अधिक के विकास कार्य यहां करवाए है जिसमें मुख्य रूप से दो पानी की टंकी, बड़ा बगीचा, पुल-पुलिया, कई सड़कें, शासकीय स्कूल शामिल है।

कांग्रेसी गढ़ में भाजपा के लिए यहां जीत आसान नहीं होगी। पिछले कई चुनाव से क्षेत्र में मुख्यमंत्री भी भाजपा प्रत्याशियों के समर्थन में यहां सभा लेते है मगर बाणगंगा वार्ड में भाजपा को कई चुनाव से जीत नहीं मिल रही है। इस बार भाजपा ने संतोष सिंह गौर को उतारकर चुनाव में जीत का दावा किया है तो कांग्रेस ने फिर से पूर्व विधायक भल्लू भैया की बहू विनितिका दीपू यादव को ही टिकट दिया है। विनितिका ने अपना जनसंपर्क लगभग पूरा कर लिया है और उनके पति दीपू यादव का पूरे वार्ड में घर-घर सम्पर्क है। यादव बाहुल्य वार्ड होने और समाज में अच्छी पैठ रखने के चलते विनितिका को यहां भारी समर्थन मिल रहा है। 10 वर्षों में 30 करोड़ से अधिक के विकास कार्य का लाभ विनितिका को मिल सकता है जबकि संतोष गौर के लिए नया वार्ड होने के चलते कार्यकर्ताओं की भी कही न कही कमी है और विकास के लिए ड्रेनेज, सीवरेज, जलजमाव जैसे मुख्य बिंदु है। संतोष गौर पूर्व में वार्ड 12 से पार्षद रहे और यहां उन्होंने कई विकास कार्य करवाए, मगर अब नया वार्ड होने के चलते कही न कही उन्हें काफी मेहनत करना पड़ रही है।


दोनों प्रत्याशियों ने कहा आदर्श वार्ड बनाएंगे

तीसरी बार चुनाव मैदान में उतरी विनितिका दीपू यादव का कहना है कि अब उन्हें वार्ड में मुख्य रूप से छात्रों और बेरोजगारों के लिए मुफ्त कम्प्युटर शिक्षा, हाकर झोन, सामुदायिक भवन, कुएं, बावड़ियों की सफाई, गो ग्रास वाहन चलाना जैसे कार्य करना है। जबकि संतोष गौर का कहना है कि वे वार्ड में जलजमाव, सीवरेज, ड्रेनेज जैसी समस्या से मुक्ति के लिए काम करेंगे और जहां सड़क, बगीचे की आवश्यकता है वहां प्राथमिकता से काम किया जाएगा। कांग्रेस महापौर प्रत्याशी संजय शुक्ला का भी यह गृह वार्ड है ऐसे में उनके लिए भी यह वार्ड जीतना जरूरी रहेगा। जबकि भाजपा से विष्णुप्रसाद शुक्ला, फूलचंद वर्मा, गोलू शुक्ला जैसे कई बड़े नेता वार्ड में रहते है। एक तरह से दिग्गजों के इस वार्ड में कांटे की टक्कर इस चुनाव में हो रही है।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.