चौथी लहर की दस्तक, 50 मौत, 3157 नए संक्रमित

नोएड़ा में 31 मई तक धारा 144 लगाई गई, कई राज्यों में प्रतिबंध की तैयारी

नई दिल्ली (ब्यूरो)। देश-दुनिया में बढ़ता कोरोना संक्रमण एक बार फिर से डरा रहा है। आए दिन कोरोना के नए मामले सामने आ रहे हैं, जिससे सक्रिय संक्रमित मरीजों की संख्या में भी इजाफा हो रहा है। कई विशेषज्ञ इसे चौथी लहर की दस्तक मान रहे हैं। इस बीच कोरोना को लेकर चौंकाने वाली रिपोर्ट सामने आई है। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, कोरोना के नए मामलों में साप्ताहिक वृद्धि दर 41 प्रतिशत पहुंच गई है। नोएडा में धारा 144, 31 मई तक के लिए लगा दी गई है वहीं 24 घंटों में 50 मौतों के साथ ही 3157 नए संक्रमित मिले हैं। कई राज्यों में अब प्रतिबंध की तैयारी की जा रही है।
रिपोर्ट्स के मुताबिक, देश के 20 राज्यों में कोरोना संक्रमण फिर से पैर पसार रहा है। इसमें सबसे बुरा हाल राजधानी दिल्ली का है। यहां एक इस सप्ताह 9684 नए मरीज सामने आए हैं। यह पिछले सप्ताह से 53 प्रतिशत ज्यादा है, तब 6326 मामले दर्ज किए गए थे। इस एक सप्ताह में देश में मिले कुल कोरोना संक्रमित के 43 प्रतिशत मामले दिल्ली में ही मिले हैं। इसी तरह हरियाणा में इस सप्ताह 3695 मामले मिले, जो पिछले सप्ताह से 61 प्रतिशत ज्यादा हैं। वहीं उत्तर प्रदेश में पिछले सप्ताह के मुकाबले 36 प्रतिशत ज्यादा मामले दर्ज किए गए।
देश में कोरोना महामारी का खतरा बना हुआ है। ताजा खबर उत्तर प्रदेश के नोएडा से आ रही है। यहां प्रशासन ने धारा 144 लगाने का ऐलान किया है। 31 मई तक यह पाबंदी रहेगी। पूरे गौतमबुद्ध जिले में यह प्रतिबंध लगाया गया है। तेजी से बढ़ते कोरोना केस को थामने के लिए यह कदम उठाया गया है। पुलिस कमिश्नर की ओर से किए गए ट्वीट में लिखा गया, आगामी त्यौहारों व बढ़ते कोविड संक्रमण के दृष्टिगत पुलिस कमिश्नरेट गौतमबुद्धनगर में लागू धारा-144 सीआरपीसी को संशोधित करते हुए दिनांक 01.05.2022 से दिनांक 31.05.2022 तक बढ़ाया जाता है।अधिकारियों का कहना है कि यदि इससे फायदा नहीं हुआ तो सख्ती और बढ़ाना होगी। बता दें, उत्तर प्रदेश उन राज्यों में शामिल हैं जहां कोरोना के केस एक बार फिर बढ़ रहे हैं। दिल्ली की स्थिति सबसे ज्यादा चिंताजनक है।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.