चौथी लहर की दस्तक

दिल्ली में डराने लगा कोरोना, पिछली लहरों से ज्यादा घातक

नई दिल्ली। दिल्ली में कोरोना के मामले फिर तेजी से बढ़ने लगे हैं. पिछले 24 घंटे में संक्रमित मरीजों का आंकड़ा हजार पार कर गया है. कल तक यही आंकड़ा 600 चल रहा था. ऐसे में एक दिन में दिल्ली में दोगुने के करीब मामले बढ़ गए हैं. अब लोगों को इस बात की चिंता होने लगी है कि क्या एक बार फिर दिल्ली में कोरोना की लहर आने वाली है? क्या फिर राजधानी में कोरोना के रिकॉर्डतोड़ मामले दर्ज किए जाएंगे? चौथी लहर पहले की तीन लहरों से ज्यादा घातक बताई जा रही है।
अब अगर देश में आई कोरोना की तीनों लहरों पर नजर डालें और तब दिल्ली के आंकड़ों को समझने का प्रयास करें, तो काफी कुछ साफ होता दिख सकता है. राजधानी दिल्ली में दूसरी और तीसरी लहर के दौरान मामले काफी तेजी से बढ़ते दिख गए थे. सिर्फ ज्यादा मामले नहीं आए थे, बल्कि कम दिनों में वो तेजी देखने को मिली थी। आंकड़े बताते हैं कि दिल्ली में पिछले साल 30 दिसंबर को कोरोना के 1313 मामले दर्ज किए गए थे. फिर 31 दिसंबर को 483 ज्यादा मामले दर्ज हुए और आंकड़ा 1,796 पर पहुंच गया. लेकिन ओमिक्रॉन की स्पीड ऐसी रही कि सिर्फ चार दिन बाद ही दिल्ली में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 5481 पर पहुंच गया. इसके बाद सिर्फ 10 दिन के अंदर दिल्ली में कोरोना मरीजों की संख्या एक दिन में 28,000 को भी पार कर गई।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.