आम जनमानस मोदी के नेतृत्व में तलाश रहा है नया भारत…

पां च राज्यों के विधानसभा चुनाव ने जहां 2024 में नए भारत की दिशा तय कर दी है वहीं इन चुनावों में एक बार फिर से सिद्ध हो गया कि महंगाई, बेरोजगारी अब मुद्दे नहीं रहे। आम जनमानस ने मोदी के नेतृत्व में नए भारत को देखने के लिए मन बना लिया है। जहां एक ओर भाजपा को सभी राज्यों में महिलाओं का अच्छा-खासा समर्थन मिला है वहीं पश्चिमी उत्तर प्रदेश में किसान आंदोलन और उनकी मृत्यु को विपक्ष भुना नहीं पाया। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भाजपा को भारी समर्थन मिला। वहीं पूरे देश में 80 करोड़ लोगों को दिया गया मुफ्त अनाज भी नमक अदा करने में फायदेमंद रहा। उत्तर प्रदेश में जहां जातिगत राजनीति को एक बार फिर दरकिनार करते हुए भाजपा का नया हिन्दुत्व हावी रहा, अखिलेश यादव का सामाजिक समीकरण फैल हो गया। दूसरी ओर कांग्रेस के लिए सबसे ज्यादा निराशाजनक हालात रहे कि जहां-जहां भी कांग्रेस के विकल्प दिखाई दिये वहां पर लोगों ने कांग्रेस को नकारना शुरू कर दिया। राष्ट्रीय स्तर की पार्टी कांग्रेस को छोड़कर गए मतदाता वापस कांग्रेस में नहीं लौट रहे हैं। कांग्रेस के लिए भी यह चिन्ता और चिंतन दोनों का समय है कि तमाम प्रयास के बाद वे किसी भी राज्य में अपनी जमीन तैयार नहीं कर पा रही है। इसका मुख्य कारण 70 साल के शासन के बाद भी संगठन को सही दिशा में खड़ा नहीं कर पाना है। भाजपा की सबसे बड़ी जीत केवल उसका संगठन ही है, जो वे लगातार बूथ स्तर पर भी तैयार करते रहते हैं। उत्तर प्रदेश में 40 साल बाद इतिहास दोहराया गया है जहां पूर्ण बहुमत की सरकार दूसरी बार वापस लौटी है और यह मित्थक भी समाप्त हो गया कि उत्तर प्रदेश में दूसरी बार मुख्यमंत्री नहीं लौट रहे हैं। इसी के साथ अब भाजपा को 2024 के लोकसभा चुनाव के लिए भी एक ताकतवर लाइन मिल गई है और जिन मुद्दों को लेकर भाजपा अभी तक राजनीति करती रही है वे ही मुद्दे आगे भी भाजपा बढ़ाती रहेगी। अब देश में महंगाई और बेरोजगारी सहित ऐसे कई मुद्दे नेपथ्य में चले जाएंगे जो भविष्य के लिए राजनीति की दिशा तय किया करते थे।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.