Delhi MCD results :विधानसभा के बाद नगर निगम भाजपा मुक्त

दिल्ली एमसीडी के परिणाम आना शुरू, नतीजों से पहले केजरीवाल के घर मंगाए गए फूल, जश्न की तैयारी

Delhi MCD results
Delhi MCD results

नई दिल्ली (ब्यूरो)। दिल्ली विधासनभा के बाद अब नगर निगम भी भाजपा मुक्त हो गई है। एमसीडी के प्रारंभिक रुझानों में कभी भाजपा आगे तो कभी आप पार्टी आगे चलती रही, लेकिन कांग्रेस शुरुआत से ही पिछड़ती रही। आप पार्टी ने 8 साल पहले विधानसभा चुनाव जीता था और उसके बाद लगातार उसको सफलता मिलती गई। पिछले चुनाव में पंजाब में सरकार बनाने के बाद अरविंद केजरीवाल के हौंसले और बढ़ते गए। अब निगम में शहर सरकार बनाने के बाद उनके जश्न का ठिकाना नहीं रहेगा। आने वाले लोकसभा चुनाव में नरेन्द्र मोदी और राहुल गांधी के लिए अरविंद केजरीवाल सबसे बड़ी चुनौती होंगे।

Also Read – देश को महंगाई और बेरोजगारी के जाल में मोदी ने उलझाया

दिल्ली नगर निगम चुनाव 2022 के वोटों की जारी है। तीन नगर निगमों के एकीकरण के बाद इस बार 250 वार्डों पर मतदान हुआ था। 4 दिसंबर को हुए मतदान में करीब 50 फीसदी लोगों ने मताधिकार का प्रयोग किया था। एमसीडी में पिछले 15 सालों से भाजपा का कब्जा है। आम आदमी पार्टी ने भले ही विधानसभा में अपनी सफलता के झंडे गाड़े हों, लेकिन एमसीडी के पिछले चुनावों में भाजपा के प्रदर्शन पर कोई असर नहीं पड़ा था। इस बार हालात कुछ अलग बताए जा रहे हैं। एग्जिट पोल के मुताबिक भी इस बार के चुनावों में आम आदमी पार्टी को सबसे ज्यादा सीटें मिलने का अनुमान है।Delhi MCD results

कई वार्ड ऐसे हैं जहां भाजपा और आम आदमी पार्टी के बीच कांटे की टक्कर दिख रही है। साढ़े आठ बजे तक 115 वार्डों के रुझान आए गए हैं, जिनमें से आम आदमी पार्टी 70 पर आगे है। भाजपा 45 पर आगे है। 2017 के निकाय चुनावों में भाजपा ने 270 वार्डों में से 181 पर जीत हासिल की थी। वहीं आम आदमी पार्टीा ने 48 वार्डों में और कांग्रेस ने 27 वार्डों में जीत हासिल की थी। 2017 में मतदान प्रतिशत 53 के आसपास था। 2022 के चुनाव प्रचार के दौरान भाजपा और आम आदमी पार्टी के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिली। कांग्रेस के चुनाव प्रचार में जहां उत्साह की कमी नजर आई, वहीं भाजपा और आप ने अपनी पूरी ताकत झोंकी। इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया के एग्जिट पोल के मुताबिक, आम आदमी पार्टी को 250 में से 140 से 171 वार्डों में जीत मिल सकती है। Delhi MCD results 

रायशुमारी में अनुमान है कि इस बार भाजपा को 69 से 91 वार्डों पर ही जीत मिल सकती है।
वहीं कांग्रेस के खाते में तीन से सात वार्ड जाते दिख रहे हैं। यही अनुमान अन्य एग्जिट पोल में लगाया गया है। एग्जिट पोल के मुताबिक, आम आदमी पार्टी को 43 फीसदी वोट शेयर मिल सकता है, जबकि भाजपा की झोली में 35 फीसदी वोट जाएंगे। कांग्रेस को कुल वोट का सिर्फ 10 प्रतिशत हिस्सा मिलेगा।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.