अगड़ों में पिछड़ों को लड़ाने पर उलझी भाजपा परिवारवाद को भी किया दरकिनार

दावा था..नहीं चलेगा परिवादवाद व आरक्षण पर समझौता

इंदौर। पिछड़ों के आरक्षण को लेकर विपक्ष पर आरोप लगाने वाली भाजपा खुद ही उलझ गई है भाजपा में सामान्य सीटों पर पिछडो को लड़ाने पर भाजपा में विवाद बढ़ गया है कई वार्डो में मंडल पदाधिकारियों के रिश्तेदारों को लड़ाकर बड़े नेताओं के आदेश व पार्टी फार्मूले की ही धज्जियां उड़ा दी गई है।
भाजपा ने पहले टिकिट वितरण में देरी की फिर टिकिट वितरण का आक्रोश अभी तक खत्म नही हुआ है टिकिट की नाराजगी खत्म हुई नही की अब अगड़े वार्डो में पिछड़े को लड़ाकर नई मुसीबत संगठन के सामने खड़ी हो गई है कई वार्ड है जहां विरोध हो रहा है


हर विस में सामान्य वार्ड में पिछडो को लड़ाया जा रहा है
विधानसभा 1 के वार्ड 1 में सामान्य पर पिछड़े महेश चौधरी को मैदान में उतारा गया है जो मंडल अध्यक्ष भी है वही वार्ड 15 में सावित्री चौकसे को सामान्य सीट से पिछड़े को मौका दिया गया है वार्ड 56 में पहले युवराज उस्ताद की पत्नी को टिकिट देकर बवाल मचा था जिस पर प्रदेश संगठन को मैदान पकड़ना पड़ा और टिकिट बदला गया लेकिन यहां गजानद गावड़े को उतारा गया है जो पिछड़े है।

ऐसे ही वार्ड 58 में पिछड़े सन्नी राजू चौहान मैदान में है और ये सामान्य सीट है
४वार्ड 60 में अनुसूचित जाति से रंजना पीपले आई है जबकि सीट सामान्य है वार्ड 69 में सामान्य सीट से पिछड़ी मीता रामबाबू राठौर को मौका दिया गया है 49 नम्बर में सामान्य सीट से पिछड़े राजेश उदावत मैदान में है यहां कई दिग्गज मैदान में थे लेकिन अब नाराजगी सामने आ रही है
४वार्ड 52 में सपना मंगरोला को मौका दिया है जबकि सीट सामान्य है और ये पिछड़ी है वार्ड 51 से मलखान कटारिया को टिकिट देकर सामान्य को नज़रंदाज़ किया गया है

यही हाल वार्ड 53 में है यहां अर्जुन मेहरा मैदान में है जो पिछड़े है
वार्ड 27 में मुन्नालाल यादव को सामान्य से पिछड़े के रूप में उतारा गया है अब भाजपा का ये निर्णय संगठन के लिए ही बड़ा सिरदर्द हो गया है यहां के सामान्य दावेदार नाराज है पहले राष्ट्रीय संगठन के परिवादवाद के निर्णय को दरकिनार किया गया अब पिछडो की राजनीति पर स्थानीय नेताओं ने पानी फेर दिया है।

भारतीय जनता पार्टी की चुनाव संचालन समिति का हुआ गठन
नगरीय निकाय चुनाव के निमित्त भारतीय जनता पार्टी द्वारा चुनाव संचालन समिति का गठन किया गया है जिसमें  विधायक रमेश मेंदोला को चुनाव प्रभारी, वरिष्ठ भाजपा नेता एवं पूर्व आईडीए अध्यक्ष मधु वर्मा को चुनाव संचालक  एवं प्रदेश कार्यसमिति सदस्य प्रमोद टंडन को चुनाव सह-संचालक बनाया गया।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.