हर दिन सवा करोड़ यूनिट की खपत, शहर में डेढ़ लाख एसी, 4 लाख कूलर चल रहे

कंपनी क्षेत्र के सभी जिलों में अप्रैल के 13 दिनों में 14 करोड़ यूनिट बिजली जली, मई, जून में एक से डेढ़ करोड़ यूनिट और बढ़ेगी

इंदौर। मार्च के अंतिम सप्ताह से गर्मी की शुरुआत के बाद इन दिनों तापमान 40 से 41 डिग्री सेल्सियस चल रहा है और पश्चिम क्षेत्र बिजली वितरण कंपनी के अंतर्गत सभी 15 जिलों में अप्रैल के 13 दिनों में करीब 14 करोड़ यूनिट की खपत हो गई है। शहर में डेढ़ लाख से अधिक एसी, 4 लाख कूलर और 15 लाख से अधिक पंखे चल रहे है। मई, जून में भीषण गर्मी के चलते डेढ़ करोड़ यूनिट प्रतिदिन की खपत हो जाएगी।
शहर में बिजली की मांग इन दिनों 25 से 28 फीसदी तक बढ़ गई है। हर दिन एक से सवा करोड़ यूनिट की खपत हो रही है। 1 अप्रैल से 13 अप्रैल तक यदि देखा जाए तो 14 करोड़ यूनिट की खपत अब तक हो चुकी है और जैसे-जैसे दिन बीतते जाएंगे वैसे-वैसे गर्मी बढ़ेगी तथा बिजली की खपत भी तेज होगी। मौसम विभाग के अनुसार अप्रैल अंत तक तापमान 42 डिग्री तक जा सकता है। जबकि मई, जून में 43 से 44 डिग्री तापमान होगा और कुल खपत हर दिन डेढ़ करोड़ यूनिट तक हो सकती है। बिल की राशि में 5 से 7 फीसदी की वृद्धि होगी। इसी माह से नियामक आयोग ने नई दरें भी लागू कर दी हैं। यह झटका अभी उपभोक्ताओं पर ही पड़ेगा।
शहर में 30 फीसदी बिजली मांग बढ़ी
कंपनी क्षेत्र के सभी 15 जिलों के अंतर्गत इंदौर जिला और शहर में सबसे अधिक खपत हो रही है। अप्रैल में अब तक इंदौर शहर में 523 मेगावाट बिजली की खपत रही। करीब 30 फीसदी बिजली की ज्यादा मांग बताई गई है। मई, जून में यह आंकड़ा 2 से 3 फीसदी और बढ़ सकता है। शहर में हर दिन एसी, कूलर, फ्रीज की खरीदी बढ़ रही है। प्राप्त जानकारी के अनुसार इंदौर शहर में डेढ़ लाख एसी, 4 लाख कूलर और 15 लाख पंखे है। जबकि उज्जैन, देवास, रतलाम, खरगोन, खंडवा जैसे शहरों में भी लाखों की संख्या में उपकरण इस्तेमाल किए जा रहे है। इंदौर शहर में हर दिन करीब 25 लाख यूनिट बिजली की खपत बताई गई है।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.