गुरुदत्त की तलाश थी जो शानदार अदाकार बनी

3 फरवरी को 'वहीदा रेहमानÓ के जन्मदिन के अवसर पर

इंदौर। 3 फरवरी को सुनहरे युग की सफलतम अभिनेत्री, कुशल नृत्यांगना ‘वहीदा रेहमानÓ का जन्म दिवस है, आपका जन्म सन् 1938 में तत्कालीन ‘मद्रास प्रेसिडेंसीÓ (वर्तमान मे तामिलनाडू) के ‘चेंगलपट्टुÓ में हुआ था, आपके पिताजी ब्रिटिश सरकार के ‘जिला कलेक्टरÓ के पद पर कार्यरत थे, वहिदा ने अपनी बहन के साथ ‘भरत नाट्यमÓ का प्रशिक्षण प्राप्त किया था।
एक कार्यक्रम में वहिदा का नृत्य देखकर महान फिल्मकार ‘गुरूदत्त साहबÓ बहुत प्रभावित हुए और उन्होंने वहिदा को फिल्मों में अभिनय करने का प्रस्ताव दिया, जो वहिदा ने अपनी शर्तों पर स्वीकार किया। याद रहे अभिनेता- मेहमुद और निर्देशक- राज खोसला की भी यह पहली फिल्म थी, देव आनंद साहब की मुख्य भूमिका वाली सीआईडी फिल्म जबरदस्त सफल रही। गुरूदत्त साहब ने अपनी अगली फिल्म ‘प्यासाÓ में सन् 1957 में दो नायिकाओं में से एक भूमिका दी, इसके बाद वहिदा-गुरूदत्त साहब की कंपनी की स्थायी अभिनेत्री बन गयी। उनके साथ ‘साहब- बीवी और गुलाम, कागज के फुल, चौदहवीं का चाँदÓ में नायिका रही।
सन् 1964 में ही प्रदर्शित फिल्म ‘शगुनÓ के नायक ‘कंवलजीतÓ से वहिदा ने विवाह कर लिया।
वहिदा रेहमान और देव आनंद साहब की जोड़ी की हर फिल्म जबरदस्त हिट रही, अपनी बढ़ती आयु में वहिदा ने चरित्र भुमिकाएं निभाना शुरू किया
वहिदा रेहमान को जन्म दिवस बहुत-बहुत शुभकामनाएं।
-सुरेश भिटे

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.