खरगोन : प्रशासन ने सख्त कार्रवाई शुरू की, 16 मकान और 29 दुकानें नेस्तनाबूद

खरगोन (निप्र)। खरगोन में आज तीसरे दिन भी कर्फ्यू जारी है। वहीं रातभर आगजनी की घटनाएं होती रही हैं। प्रशासन ने कल शासकीय भूमि पर बने 16 मकान और 29 दुकानों को तोड़ा और वहां से 45 से ज्यादा अतिक्रमण भी हटाए गए हैं। आज भी कर्फ्यू लगा हुआ है। स्थिति अब धीरे-धीरे शांत होती जा रही है वहीं प्रभारी मंत्री कमल पटेल खरगोन के दौरे पर पहुंच रहे हैं। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने कल कहा था कि अपराधियों को बख्शा नहीं जाएगा।
उधर संजय नगर स्थित पूर्व पार्षद के बेेटे वारिश असलम चौबे के खिलाफ लोगों ने शिकायत की है। प्रशासन इस मामले में जांच में जुटा हुआ है। कर्फ्यू के कारण केवल दूध वालों को ही आने-जाने की छूट दी गई है बल्कि मेडिकल स्टोर भी बंद बताए जा रहे हैं। अभी तक खरगोन से 100 से ज्यादा परिवार पलायन कर चुके हैं जिनके अभी लौटने की उम्मीद नहीं है। पुलिस ने 90 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। उनके घरों में तलाशी अभियान जारी है।
प्रशासन ने शहर में शांति बहाल करने के लिए 500 से अधिक पुलिस बल को बुला लिया है। जल्द ही स्थिति नियंत्रण में होगी। रक्षित निरीक्षक रेखा रावत ने जानकारी देते हुए बताया कि खरगोन शहर में लगे कर्फ्यू के लिए अन्य जिलों से पुलिस बल को बुलाया गया है। सोमवार दोपहर 2 बजे तक आरटीपीसी के 77, 13 वी वाहिनी इंदौर-ग्वालियर से 92, 1वी वाहिनी प्रशिक्षित से 54 व इंदौर से 31, आरपीटीसी प्रशिक्षण के 152, एसटीएफ के 65 जवानों सहित कुल 850 पुलिस बल खरगोन पहुँच चुका है। अभी अन्य जिलों से कुल 500 से अधिक महिला व पुरुष जवानों का बल पहुचने वाला है।

रामनवमी पर रविवार को शहर में निकली शोभायात्रा के दौरान हुई पत्थरबाजी में शामिल लोगों को रात से ही पकड़ने की कार्यवाही कल देर रात भी जारी रही। इस दौरान आगजनी और पथराव करने आए लोगों की शिनाख्त कर इनके अवैध निर्माणों को ध्वस्त किया गया। वहीं बड़े पैमाने पर गिरफ्तारी जारी रही। आज भी कर्फ्यू जारी है। शासन के निर्देशानुसार इंदौर संभागायुक्त डॉ. पवन शर्मा और आईजी राकेश गुप्ता के निर्देशन में कार्यवाही जारी है।
रविवार रात से ही संभागायुक्त डॉ. शर्मा और आईजी श्री गुप्ता ने मोर्चा सम्भाला। उन्होंने प्रभावित इलाकों में निरीक्षण किया। साथ ही आवश्यकता के अनुसार हर जगह पुलिस बल तैनात किया। रविवार की मध्यरात्रि में ही 77 उपद्रवियों को पकड़ा गया था। इनके बाद सोमवार को 7 लोगो को पकड़ा। रविवार की मध्यरात्रि के बाद से हालात सामान्य है। कलेक्टर अनुग्रहा पी. कर्फ्यू की स्थिति को देखते हुए सभी राजस्व अधिकारियों की मजिस्ट्रेट ड्यूटी लगाई गई।
कार्यवाही के दौरान आयुक्त डॉ. शर्मा ने पत्रकारों को बताया कि कल रात से हुई कार्यवाही में अब 84 लोगों को हिरासत में लिया है। शासन के निर्देशानुसार पत्थरबाजी में शामिल लोगों पर दंडात्मक कार्यवाही के साथ-साथ आर्थिक कार्यवाही भी सुनिश्चित की जा रही है। हिरासत में लिए लोगों से पूछताछ के बाद अतिक्रमण के मकानों और दुकानों को तोड़ने की कार्यवाही की जा रही है। छोटी मोहन टॉकीज, खसखसवाड़ी, तालाब चौक और आनंद नगर के पिछले हिस्से को चिन्हित किया गया है। सोमवार सुबह 11 बजे से छोटी मोहन टॉकीज क्षेत्र में मुस्लिम दल्लू का 800 वर्ग फिट आवासीय भवन, मुक्कू उर्फ मुकीम चाँद खाँ का 240 वर्ग फिट, खलील खाँ गुलशेर खाँ का 340 वर्ग फिट और रियाज शेर मोहम्मद का 1000 वर्ग फिट का अतिक्रमण हटाया गया। सोमवार को अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही छोटी मोहन टॉकिज, खसखसवाड़ी, गणेश मंदिर और तालाब चौक में की गई।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.