एक करोड़ पुराने वाहन अप्रैल से हटना शुरू होंगे

कारों और दोपहिया वाहनों पर अब लगेगा पंजीयन शुल्क,भारी जुर्माना लगाने की तैयारी भी

नई दिल्ली। देशभर में सड़कों पर 15 साल से ज्यादा समय से चल रहे दोपहिया और चार पहिया वाहनों को अब हटाने को लेकर अप्रैल माह से बड़ी तैयारी की गई है। इसमें अब बिना पंजीयन पुराने वाहन सड़कों पर नहीं उतारे जा सकेंगे। पकड़े जाने पर वाहन जब्त किए जाने की तैयारी भी की जा रही है। साथ ही जुर्माना भी देना होगा। पूरे देशभर में 1 करोड़ से अधिक पुराने वाहन सड़कों पर चल रहे हैं जो प्रदूषण फैलाने के लिए जवाबदार माने जा रहे हैं।
परिवहन मंत्रालय के अनुसार 1 अप्रैल से 15 साल पुरानी कारें और दो पहिया वाहन भंगार में दिए जाने को लेकर योजना लागू हो चुकी है जिसमें टैक्स सहित नए वाहन खरीदने के लिए भी बड़ी छूट मिलेगी। वहीं 15 साल पुराने वाहनों के लिए फिर से रजिस्ट्रेशन कराना होगा। अब इसके लिए 5000 रुपए शुल्क देना होगा जो पहले 600 रुपए लगता था। वहीं दो पहिया वाहन के लिए 300 रुपए के बजाय 1000 रुपया शुल्क देना होगा। इसके अतिरिक्त इंपोटेट कार पर 40,000 रुपए पंजीयन शुल्क लगेगा। उल्लेखनीय है कि इस साल के अंत तक सरकार देशभर में चल रहे 1 करोड़ पुराने वाहनों से सड़कों को मुक्त कराने के लिए लक्ष्य बना चुकी है। इससे जहां प्रदूषण पर नियंत्रण लगेगा वहीं नए वाहनों का कारोबार भी तेजी से बढ़ेगा। कई जगहों पर पुराने वाहनों के बदले नए वाहनों की खरीद पर रोड़ टैक्स सहित सब्सिडी देने की योजना भी शुरू की जा रही है। प्रायवेट वाहनों को 25 प्रतिशत और व्यावसायिक वाहनों को 15 प्रतिशत टैक्स छूट दी जाएगी।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.