लोकलुभावन चुनावी बजट : सभी वर्गों का ध्यान रखा

60 लाख रोजगार, 80 लाख मकान

नई दिल्ली (ब्यूरो)। लोकसभा में आज वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने नरेन्द्र मोदी सरकार का लगातार चौथी बार बजट पेश किया। उन्होंने अपने बजट भाषण में आगामी 25 साल का ब्यूप्रिंट तैयार किया है, तथा 100 साल के लिए ढांचागत बुनियाद की तैयारी की है। 60 लाख नई नौकरियों के साथ ही 80 लाख गरीबों के लिए पीएम आवास बनाए जाएंगे, किसानों की सब्सिडी में भी वृद्धि की गई है। बजट पूरी तरह लोकलुभावन नजर आ रहा है।
वित्तमंत्री ने अपने बजट भाषण में 20 हजार करोड़ की लागत से 25 हजार किलोमीटर हाईवे एक साल में बनाने का लक्ष्य बताया। 60 लाख अतिरिक्त नौकरी सृजन करने का भी वादा किया है। अगली पीढ़ी के लिए 400 वंदेमातरम नई ट्रेन का भी ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था को लगातार बढ़ावा मिल रहा है। यह बजट आगामी 25 साल की बुनियाद तय करेंगा। वित्तमंत्री ने हेल्थ इंफ्रास्टंचर को भी मजबूत करने का वादा किया है। साथ ही एलआईसी का आईपीओ जल्द लाने की बात कही है। बजट में सबसे ज्यादा विकास को ही प्रोहत्साहन दिया है। जिसमें सबसे ज्यादा युवा,महिलाओं को सौगातें दी है। किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य रखा गया है। साथ ही केमिकल मुक्त खेती को बढ़ावा देने की बात कही गई है। एमएसपी पर किसानों से रिकार्ड खरीदी की जाएगी। वित्तमंत्री ने आईटी और प्रायवेट सेक्टर को बढ़ावा देने की भी बात कही है। 100 साल के लिए ढांचागत सुविधाएं बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। पीएम गतिशक्ति मिशन से अर्थव्यवस्था को मजबूत रखने का लक्ष्य रखा गया है। एयर इंडिया का विनिवेश पूरा किया गया है। 100 गतिशिल कार्गो टरर्मिनल बनाने का लक्ष्य रखा गया है। साथ ही 8नए रोप-वे का भी निर्माण करने की भी बात कही गई है। वित्तमंत्री ने गरीबों की क्षमता बढ़ाने की भी प्रतिवद्धता दोहराई है। 2023 को मोटा अनाज वर्ष घोषित किया गया है। देश में 5 नदियों को जोड़ा जाएगा। शिक्षा के क्षेत्र में पीएम-ई विद्या को बढ़ावा दिया जाएगा। वित्त मंत्री ने डाक घरों में भी एटीएम लगाने का ऐलान किया है।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.