मुफ्त की 300 गैस टंकी बेच दी इंदौर में

भाजपा से जुड़े राजगढ़ के नेता का कारनामा

(वीरेन्द्र वर्मा)
इंदौर। केंद्र सरकार की महिलाओं के लिए संचालित उज्जवला गैस योजना का घोटाला सामने आया है। इस योजना की राजगढ़ में संचालित गैस एजेंसी ने इंदौर में 300 से ज्यादा टंकियां बेच दी और लोगों से एक एक हजार रुपए ऐंठ लिए। इस मामले का खुलासा तब हुआ जब लॉकडाउन में लोगों के बैंक खाते में सब्सिडी के 600 रुपए आए। ध्यान रहे कि उज्जवला गैस योजना में महिलाओं को फ्री टंकी दी जाती है।
राजगढ़ जिले की बोरी इंडेन ग्रामीण वितरक एजेंसी ने इंदौर के अम्बिकापुरी, गणेशपुरी और देपालपुर के ग्राम करवाडी में उज्जवला योजना की 100 से ज्यादा गैस टंकियां बेची गई। यह गैस टंकिया राजगढ़ के वितरक डॉक्टर ऋषभ जैन ने देपालपुर के अपने रिश्तेदार कनकमल जैन के माध्यम से बेची है। 10 टंकियां दी गई है और बाकी टंकियों की हेराफेरी कर दी गई है। प्रशासन ने इस मामले को दबाने और लीपापोती करने की तैयारी शुरू कर दी है। बताया जाता है कि राजगढ़ की बोरी इण्डेन ग्रामीण वितरक एजेंसी के संचालन डॉ. ऋषभ जैन भाजपा से जुड़े हैं। फिलहाल 10 गैस टंकियों की जानकारी प्रशासन को लगी है। इस घोटाले को लेकर कल प्रशासनिक संकुल के कक्ष क्रमांक 222 में शिकायकर्ताओं से बयान लिए गए हैं। पहले शिकायतकर्ताओं की शिकायत पर ही संज्ञान नहीं लिया जा रहा था। एक बात ध्यान देने वाली यह है कि एक जिले की गैस टंकी दूसरे जिले में ना तो सप्लाई होती है और ना ही बेची जा सकती है।
घोटाले को दबाने का प्रयास
प्रदेश कांग्रेस के मीडिया पेनलिस्ट प्रमोद द्विवेदी ने इस मामले में आरोप लगाया की प्रदेश की भाजपा सरकार और प्रशासन द्वारा शिकायत होने के बाद भी इस घोटाले को दबाने का प्रयास करता रहा है। उन्होंने कहा कि यह तो सिर्फ उदाहरण है। ऐसी कितनी ही महिलाओं का हक भाजपा से जुड़े लोगों ने गैस टंकियों में किया होगा? इसकी जांच होने पर सामने आ सकता है।

शिकायत मिली तो जांच करेंगे
इस मामले मेें एजेंसी के डायरेक्टर ऋषभ जैन ने बताया कि 98 कनेक्शन के आवेदन आए थे, जिसमें से कई लोगों को कनेक्शन नहीं मिलने की बात सामने आई है। अगर किसी कर्मचारी ने पैसे लेकर कनेक्शन देने की कोशिश की है तो जांच की जाएगी। मेरे पास सभी के केवाईसी है और एक मामले में महिला भी शामिल है, जो कनकमल जैन के साथ काम करती है। इस संबंध में कनकमल जैन से मोबाइल पर संपर्क किया गया, लेकिन उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.