देशभर में नाक कटवाने वाले टीआई को हटाने का दम आईजी, डीआईजी तो दूर मंत्री में भी नहीं

15 सालों से राजेन्द्र सोनी इंदौर के थानों में लूटपाट कर रहे हैं

इंदौर। बाणगंगा टीआई राजेन्द्र सोनी ने पूरे देश में इंदौर की नाक कटवा दी यह कहना है डीआईजी का। इसके बाद भी इंदौर के आईजी, डीआईजी तो दूर की बात इंदौर के प्रभारी मंत्री की भी दम नहीं कि उन्हें इंदौर से हटाया जा सके। पिछले 15 सालों से यह टीआई इंदौर में ही थानों को लूटने का काम कर रहा है। बताया जाता है उसकी पहुंच दिल्ली तक है। दो दिन पहले चोरी के एक मामले में डॉक्टर को 8 घंटे थाने पर बैठाकर रखा, जबकि चोरी के उस मामले से कोई लेना-देना डॉक्टर का नहीं था। पूरा थाना वसूली के काम में इस कदर लगा हुआ है कि क्षेत्र में अवैध शराब से लेकर लूट, नशाखोरी, चाकूबाजी जैसे सारे धंधे धड़ल्ले से चल रहे है।
शहर में पिछले कुछ समय से तेजी से बढ़ते अपराधों को लेकर कल मुख्यमंत्री ने एयरपोर्ट पर डीआईजी को जहां अपराधों पर नियंत्रण के निर्देश दिए। वहीं बाणगंगा थाना ऐसा थाना है जहां 6 माह में सबसे अधिक अपराध दर्ज हुए है। यहां राजेन्द्र सोनी थाना प्रभारी है। राखी के दिन गोविंद कॉलोनी में चूड़ीवाले के साथ हुई दुर्घटना से पूरे देश में इंदौर की बदनामी हुई और डीआईजी ने दो दिन पहले ही सोनी को लताड़ लगाई थी। कहा था कि पूरे देश में इंदौर का नाम तुम्हारी वजह से खराब हो गया। बाणगंगा थाना क्षेत्र में दर्जनों बस्तियां, कॉलोनियां हैं और अवैध शराब का कारोबार जहां धड़ल्ले से होता है। वहीं नशाखोरी, चाकूबाजी, लूट, चोरी के अलावा हत्या जैसे संगीन अपराधो में भी थाना पूरे शहर में अव्वल है। सोनी के बारे में कहा जाता है कि वे क्षेत्र में न तो घूमते है न ही व्यापारियों, गणमान्य नागरिकों, जनप्रतिनिधियों से मिलते है। पुलिस जवान अपने-अपने क्षेत्रों में सुबह से रात तक वसूली में लगे रहते है और वसूली का हिस्सा सोनी को भी पहुंचाया जाता है। यहां करीब एक साल से सोनी पदस्थ है, लेकिन वे बाणगंगा, कुशवाह नगर जैसे व्यवसायिक क्षेत्र में कभी नहीं देखे गए। उनके बारे में कहा जाता है कि संघ से उनके रिश्ते है। जबकि संघ के जानकारों का कहना है कि थाना प्रभारी सोनी एक नंबर का भ्रष्ट है और संघ के किसी बड़े पदाधिकारी से कोई रिश्ता नहीं है। बताया गया है कि सोनी को कुत्ते पालने का शौक है और वे इसी काम में ज्यादा व्यस्त रहते है।
जवान कल रात निकले सड़क पर, सोनी गायब
कल जब मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने एयरपोर्ट पर डीआईजी मनीष कपूरिया को अपराधों के नियंत्रण पर निर्देश दिए तो पूरे शहर की पुलिस सड़क पर उतर आई, जबकि रात करीब 8 बजे बाणगंगा थाने का बल कुशवाह नगर मेन रोड पर पैदल घूमते हुए देखा गया, लेकिन यहां भी सोनी नहीं थे। एक एसआई और कुछ जवान कुशवाह नगर बाजार में गाड़ी का हार्न बजाते हुए निकल गए। यहां किसी भी व्यापारी, दुकानदार या किसी नागरिक से अपराधों को लेकर पुलिस ने कोई बात नहीं की। इस दौरान कुशवाह नगर सेक्टर ए में एक किरायेदार के यहां छेड़खानी को लेकर झगड़ा हो रहा था। यदि पुलिस यहां पहुंचती तो हंगामा नहीं होता। कई बस्तियों, कॉलोनियों में नशेड़ी, भंगेड़ी शाम से रात तक ज्यादा बैठे रहते है और अपराधों को अंजाम देत है।
हेमू ठाकुर अब तक नहीं हुआ गिरफ्तार
शराबकांड में मुख्य आरोपी हेमू और चिंटू ठाकुर के घर भी थाना क्षेत्र में है। बाणेश्वर कुंड पर नाले की जमीन पर बने आलीशान मकान में यहां निगम ने अब तक कोई कार्रवाई नहीं की। वहीं पुलिस अब तक हेमू को गिरफ्तार भी नहीं कर पाई। उस पर 30 हजार रुपए का ईनाम घोषित किया है। हेमू वर्षों से अवैध शराब का कारोबार कर रहा है और उसे राजनीतिक संरक्षण भी खूब प्राप्त है। कुछ वर्ष पहले उसके एक भाई की उज्जैन नाके पर बदमाशों ने गोली मारकर हत्या भी कर दी थी।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.