ब्रिटेन में तीसरी लहर से थर्राया

लंदन। कोरोना का डेल्टा वैरिएंट ब्रिटेन में तेजी से पांव पसार रहा है। ब्रिटेन में सात दिन में डेल्टा वैरिएंट से संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 33,630 हो गई है जबकि कुल मरीजों का आंकड़ा 75,953 हो गया है। ब्रिटेन में कोरोना के 99 फीसदी मामले डेल्टा वैरिएंट के हैं। पब्लिक हेल्थ इंग्लैंड (पीएचई) ने बताया कि वो डेल्टा वेरिएंट की साप्ताहिक निगरानी कर रहा है। आंकड़ों से पता चला है कि अल्फा की तुलना में डेल्टा की चपेट में आने वालों में अस्पताल में भर्ती होने का खतरा लगातार बढ़ रहा है।
पीएचई ने ये भी स्पष्ट किया है कि टीके का दो डोज डेल्टा वैरिएंट की चपेट में आने के बाद अस्पताल में भर्ती होने के खतरे से 90 फीसदी तक बचाता है। पीएचई ने ये भी बताया कि देश में कुल 40 लाख संक्रमितों में से 30 मई तक सिर्फ 15,893 लोगों को दोबारा संक्रमण हुआ है। 0.4 फीसदी ही मामले ही दोबारा संक्रमण के हैं। पीएचई ने बताया कि डेल्टा वेरिएंट की चपेट में आने के बाद 14 जून तक कुल 806 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पिछले सात दिनों में कुल 423 नए मरीजों को अस्पताल में भर्ती होना पड़ा है। भर्ती होने वालों में से 527 ऐसे लोग हैं जिन्हें टीका नहीं लगा है, 806 लोगों में से सिर्फ 84 लोगों को टीके की दोनों डोज लगी थी। पीएचई ने कहा कि लोग बिना किसी भ्रम के जल्द से जल्द टीका लगवाएं।

 

 

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.